BREAKING- छत्तीसगढ़ में तबलीगी जमात के सामने आए 107 लोगों में से 83 की रिपोर्ट आई निगेटिव, 23 की आना बाकी, CM भूपेश बोले, सतर्कता-सावधानी से बड़ा कोई हथियार नहीं

CM भूपेश बघेल ने सोशल मीडिया पर तबलीगी जमात के लोगों का स्टेटस पेश किया, सबसे ज्यादा संदिग्ध कोरबा जिले से सामने आए, ज्यादातर क्वारंटाइन पर रखे गए

रायपुर- देश में बढ़ते कोरोना के केसेज बढ़ाने का जिम्मेदार तबलीगी जमात को माना जा रहा है. छत्तीसगढ़म में भी सरकार ने निजामुद्दीन मरकज से लौटे तबलीगी जमात के 107 लोगों को चिन्हित कर उनके सैम्पल जांच में भेजे थे, जिसकी रिपोर्ट आ गई है, जिनमें से 83 सैम्पल निगेटिव पाए गए हैं, जबकि 23 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तबलीगी जमात से जुड़े लोगों का स्टेटस रिपोर्ट सोशल मीडिया फेसबुक पर साझा करते हुए कहा है कि सतर्कता और सावधानी से बड़ा कोई हथियार नहीं है. हमने कोविड 19 पर समय रहते कार्यवाही की. लाॅकडाउन समय पर किया और उसे सख्ती से लागू किया. इसी का नतीजा है कि हमारे सारे टेस्ट निगेटिव मिल रहे हैं. उन्होंने कहा कि, हम साथ मिलकर इस संकट से निपट सकते हैं.

मुख्यमंत्री ने तबलीगी जमात से संबंधित जिलेवार रिपोर्ट भी साझा की है, इसमें बताया गया है कि राज्य में सबसे ज्यादा जमात के 47 संदिग्ध कोरबा जिले के हैं. इन सभी के सैम्पल जांच में भेजे गए थे, जिसमें से केवल एक की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है, जिसका इलाज जारी है. वहीं 46 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई है. दुर्ग जिले में तबलीगी जमात के 9 लोगों के सैम्पल जांच के लिए भेजे गए थे, जिसमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई. कोरिया जिले में सामने आए 5 मामलों में सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है. सरगुजा जिले में जमात के 8, बलौदाबाजार में 6 और सुकमा जिले में 1 मामले सामने आए थे. इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है. वहीं बिलासपुर में सामने आए 17 में से 8 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि 9 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है, वहीं गौरेला-पेंड्रा में जमात के 14 लोग मिले हैं, सबकी रिपोर्ट आनी बाकी है. संदिग्ध सभी लोगों को क्वांरटाइन पर रखा गया है.

 

ये हैं जिलेवार आँकड़ें-

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।