Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

दिनेश शर्मा, सागर। शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले छात्र-छात्राओं के लिए सरकार निशुल्क साइकिल वितरण योजना (Free Cycle Distribution Scheme) चला रही है। वहीं भ्रष्ट अधिकारियों ने छात्राओं की इस योजना से भी अपने घर में धन भरने का रास्ता निकाल लिया है। सरकार से स्कूलों में छात्राओं को साइकिल बांटने के लिए फंड तो जारी हो रहा है। लेकिन मामा (सीएम शिवराज) के भांजियों को उनका हक नहीं मिल रहा है। सागर जिले में बड़े पैमाने पर सरकारी साईकिल घोटाले का धंधा चल रहा है। वहीं शिक्षा विभाग (education Department) घोटाले को रफा दफा करने में लगा हुआ है। वहीं देवरी कांग्रेस विधायक हर्ष यादव (Deori Congress MLA Harsh Yadav) ने साईकिल घोटाला मामले को विधान सभा में उठाने की बात कही। 

इसे भी पढ़ेः Jabalpur: सरपंच के भाई की गला काटकर हत्या, आरोपी मृतक के सिर को अपने साथ ले गए, खेत में मिला धड़

सागर जिले की सभी तहसीलों के स्कूलों में साईकिल वितरण योजना में लाखों रुपए के भ्रष्टाचार और घोटाला सामने नजर आ रहा है। जो साइकिलें कक्षा 6 और कक्षा 9 के छात्र छात्राओं को प्रत्येक स्कूलों में दर्ज संख्या के हिसाब से शासन द्वारा स्कूल भेजी जाती है। वहीं सागर जिले के सभी तहसीलों के स्कूलों में साइकिले कागजों में वितरित हो चुकी है। जबकि जिले भर के सभी संकुल स्कूलों में सैकड़ों की संख्या में रखी हुई है। सभी कंडम स्थिति में होकर जर्जर स्थिति में पहुंच गई है। वहीं चोरी छुपे सेटिंग से बेची जा चुकी है। जिसका कोई रिकॉर्ड अधिकारियों के पास नहीं है। मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की जा रही है।

इसे भी पढ़ेः हमीदिया हादसे में शिवराज सरकार को नोटिस, बच्चों की मौत मामले में हाईकोर्ट ने मांगा जवाब

देवरी हाई स्कूल में ही 400 साइकिलें दो साल से रखी हुई है

घोटाला करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं होने से  उनके हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे हैं। वहीं शासन की साइकिल वितरण योजना में भ्रष्टाचार की बात को लेकर सागर जिले के देवरी ब्लॉक के पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष संदीप जैन ने भी सोशल मीडिया पर साइकिल वितरण योजना की बात करते हुए देवरी हाई स्कूल में करीब 400 साइकिल 2019 से रखी जो रखी हुई खराब हो रही है। उन साइकिलों का वितरण छात्र-छात्राओं को नहीं किया गया। वहीं कांग्रेस के देवरी विधायक हर्ष यादव ने  शिक्षा विभाग के आयुक्त को पत्र लिखकर पूरे जिले भर में साइकिल वितरण की जानकारी मांगी गई थी, जो जानकारी अधिकारियों द्वारा दी गई, उस जानकारी को देने में भी लीपापोती की गई है।

इसे भी पढ़ेः शिवराज कैबिनेट की बैठक आजः बच्चियों से रेप पर फांसी का विधेयक वापस लेने के प्रस्ताव पर होगी चर्चा, 6 नए मेडिकल कॉलेज के लिए जारी होंगे डेढ़ हजार करोड़ रुपए