इस क्रिकेटर ने कहा- कोविड-19 के प्रभाव से उबरने में अहम भूमिका अदा कर सकता है खेल

स्पोर्ट्स डेस्क- इस समय पूरी दुनिया में संकट के बादल मंडरा  रहे हैं, और हर देश सिर्फ और सिर्फ कोरोना के कहर से बचने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है अपनी पूरी ताकत लगा रहा है, और कोरोना वायरस के खिलाफ फाइट में लगा हुआ है, फिर भी कोरोना का कहर लगातार जारी है।

कोरोना के कहर के बीच अब इंग्लैंड के लिमिडेट ओवर के कप्तान इयॉन मोर्गन ने बड़ी बात कही है, मोर्गन ने साफ कहा है खेल कोरोना वायरस के प्रभाव से उबारने में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं।

गौर करने वाली बात है कि कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर के खेल ठप्प पड़े हैं, ऐसे में आईसीसी ने इयॉन मोर्गन के हवाले से कहा है खेल दुनिया को आगे बढ़ाने और लोगों का चीजों के प्रति नजरिया बदलने में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

मोर्गन कहते हैं अलग थलग रहने से दिमाग निष्क्रिय हो जाता है, खेलों से दिमाग को सक्रिय बनाया जा सकता है, अगर ऐसा होता है तो मुझे लगता है कि ये बहुत ही महत्वपूर्ण कदम होगा, जब तक स्थिति कंट्रोल में नहीं आती है, इंग्लैंड के टॉप क्रिकेटर इंतजार करने को तैयार हैं, और इस संकट से लड़ने के लिए जो भी संभव हो रहा है वो कर रहे हैं।

मोर्गन ने आगे कहा ये बात तो है कि अभी अनिश्चितता बनी हुई है, वास्तविकता ये है कि जब तक इस महामारी पर कंट्रोल नहीं हो जाता है, हम खेलने के बारे में नहीं सोच सकते हैं, क्रिकेटर और अन्य खिलाड़ी इस घातक वायरस से लड़ाई में अपना योगदान दे रहे हैं।

गौरतलब है कि इस कोरोना वायरस नामक महामारी के खिलाफ दुनियाभर के स्पोर्ट्स प्लेयर अपने अपने हिसाब से अपने अपने देशों को मदद को आगे आ रहे हैं और जिससे जो बन पा रहा है वो कर रहा है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।