क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे सीआरपीएफ के जवान ने आदिवासी महिला के साथ किया दुष्कर्म, आदिवासी समाज में गुस्सा, आरोपी गिरफ्तार

जब हो रही थी एफआईआर तब दूसरी महिला के साथ भी कर रहा था छेड़छाड़

शिवा यादव, सुकमा। सुकमा जिले में सीआरपीएफ के एक जवान के ऊपर एक आदिवासी महिला से दुष्कर्म के अलावा दो और से छेड़खानी का आरोप लगा है। एफआईआर के बाद पुलिस ने आरोपी जवान को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में सर्व आदिवासी समाज ने आऱोपी जवान के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

मामला जिला के दोरनापाल थाना क्षेत्र के दुब्बाटोटा गांव का है। सीआरपीएफ कैम्प से 200 मीटर की दूरी पर क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे जवान ने एक 21 वर्षीय महिला के साथ दुष्कर्म किया गया और गाय चरा रही एक 16 वर्षीय युवती से छेड़खानी की गई। बुधवार को महिला ने दोरनापाल थाना में एफआईआर कराई। बताया जा रहा है कि जिस दौरान उस पर एफआईआर दर्ज की जा रही थी उसी दौरान वह एक तीसरी महिला को पैसे का प्रलोभन देकर उसके साथ छेड़छाड़ का प्रयास कर रहा था। इन सारी घटनाओं के सामने आने के बाद आदिवासी समाज में काफी गुस्सा है।

मामले में पुलिस की एक टीम महिला डीएसपी के नेतृत्व में सुकमा से दोरनापाल थाने पहुंची। पुलिस ने युवती, उसके परिजनों के साथ ही ग्रामीणों का भी बयान लिया और युवती के मेडिकल टेस्ट के बाद उक्त जवान को गिरफ्तार किया।

क्वारंटाइन नियमों का भी किया उल्लंघन

पुलिस के अनुसार आरोपी जवान कैम्प के पास बने क्वारंटाइन सेंटर में 22 दिनों के लिए क्वारंटीन था। क्वारंटाइन पीरियेड पूरा होने के लिए महज चार ही दिन बचे थे। लेकिन उसने क्वारंटाइन के नियमों का भी उल्लंघन किया।

दोरनापाल एसडीओपी अखिलेश कौशिक ने बताया कि बुधवार को एक महिला से हमें लिखित शिकायत मिली थी कि उसके साथ किसी व्यक्ति के द्वारा दुष्कर्म की घटना की गई है जिस पर हमने एफआईआर दर्ज करते हुए मामले की विवेचना किया। जिसके बाद हम आरोपी को पकड़ने में कामयाब हुए हैं और आरोपी को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमांड के लिए सुकमा भेजा गया।

 

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।