BREAKING : दंतेवाड़ा में चुनाव प्रचार थमने के बाद बाहरी नेताओं को लेकर गरमाया विवाद, पुलिस ने मारा छापा, तो थाना में धरने पर बैठें बीजेपी कार्यकर्ता

पंकज सिंह, दंतेवाड़ा। उपचुनाव के लिए 21 सितंबर को शाम 3 बजे प्रचार थमने के बाद अब बाहरी नेताओं के रुकने को लेकर भाजपा और कांग्रेस के बीच विवाद गरमा गया है. इस विवाद के बीच भाजपा के कुछ कार्यकर्ता देर रात गीदम थाना पहुँचे और वहां सुनवाई होने पर थाना में धरने पर बैंठ गए हैं. भाजपा नेता मनीष सुराना का आरोप हैं, कि पुलिस कांग्रेस की शिकायत पर बीजेपी के स्थानीय नेताओं के घर पर छापेमारी कर परेशान कर रही है. जबकि उनकी शिकायतों पर पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है.

दरअसल स्थानीय कांग्रेस नेता शकील रिज़वी की ओर से यह शिकायत की गई थी, कि मनीष सुराना के चाचा के घर भाजपा के कुछ बाहरी नेता रुके हुए हैं. इस शिकायत पर गीदम पुलिस ने छापा मारा, लेकिन कोई भी बाहरी नेता नहीं मिले. इसके बाद बीजेपी नेताओं ने पुलिस के खिलाफ हल्ला बोल दिया. मनीष सुराना कुछ कार्यकर्ताओं के साथ गीदम थाना पहुँच गए हैं. उन्होंने भी शिकायत कांग्रेस के स्थानीय नेताओं के घर बाहरी नेता रुके हुए हैं. लेकिन पुलिस ने कहा, लिखित शिकायत दीजिए कार्रवाई की जाएगी. इसी बात को लेकल नाराज भाजपा के कार्यकर्ता थाना कक्ष बाहर धरने पर बैंठ गए.

आपको बता दे कि  21 सितम्बर की शाम 3 बजे प्रचार थम गया। चुनाव आयोग के निर्देशों के मुताबिक कोई बाहरी व्यक्ति चुनाव क्षेत्र में नहीं रुकता. अगर कोई बाहरी नेता रुक रहा, तो आदर्श आचार संहिता नियम का उल्लंघन है. ऐसे किसी भी शिकायत पर उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जा सकता.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।