Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

Darlings Movie Review: नेटफ्लिक्स पर आलिया भट्ट के अभिनय से सजी फिल्म डार्लिंग्स आज रिलीज हो गई है. जसमीत के रीन के निर्देशन में बनी इस फिल्म में शेफाली शाह , विजय वर्मा , रोशन मैथ्यू , राजेश शर्मा और विजय मौर्य लीड रोल में हैं.

Darlings फिल्म की कहानी घरेलू हिंसा पर आधारित है. आलिया भट्ट यानि बदरुनिसा उर्फ बदरू पर उसका पति विजय वर्मा यानि हमजा अत्याचार करता है. वो सहती है, आलिया की मां शेफाली शाह यानि शमशूनिस उसे ये करने से रोकती है, लेकिन फिर एक दिन कुछ ऐसा होता है कि आलिया बदरू अपने पति के साथ घरेलू हिंसा करने लगती है. फिर क्या होता है, यही फिल्म में दिखाया गया है.

 बीवी सब सहती रहती है. वहीं लड़का ऑफिस में उत्पीड़न सहता है. उसका बॉस उससे टॉयलेट साफ कराता है. लड़की की मां सामने वाले घर से सब देखती रहती है.

नई बोतल की वही शराब पुरानी

‘फोर्स 2’, ‘फन्ने खां’ और ‘पति पत्नी और वो’ जैसी फिल्मों की राइटिंग टीम का हिस्सा रहीं जसमीत के रीन की बतौर निर्देशक पहली फीचर फिल्म है ‘डार्लिंग्स’. एक महिला निर्देशक के नाते उनकी कहानी का फोकस भी दोनों महिला किरदारों यानी मां, बेटी पर ही है. ये मां, बेटी चतुर और चंट महिलाएं हैं. घर में चोरी का सामान बेचने आने वाले नौजवान को बुद्धू बनाती रहती हैं. कहानी का तख्ता पलट भी ये दोनों ही करती हैं.

बेटी को मारते रहने वाले दामाद को सबक सिखाने के प्लान में शामिल हुई मां अपने चाहने वालों को भी इसमें घसीट लाती है. शॉर्ट फिल्म के हिसाब से कहानी फिट है. फीचर फिल्म के हिसाब से ये अपने पत्ते खुल जाने के बाद बोर करने लगती है. जसमीत के रीन कोशिश पूरी करती हैं कि फिल्म पटरी पर बनी रहे, लेकिन रेल की पटरी तक आते आते पटकथा हिम्मत हार जाती है. जसमीत के निर्देशन में किसी तरह की ऐसी नवीनता भी नहीं है कि दर्शक टकटकी बांधकर एक ही बैठकी में पूरी फिल्म देख जाए.