Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि देश कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर चिंतित है. कश्मीर उनका घर है, ऐसे में कश्मीरी पंडितों के प्रदर्शन पर लाठीचार्ज करना और आंसू गैस के गोले दागना गलत है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि यह राजनीति करने का नहीं, कश्मीरी पंडितों को सुरक्षा देने का समय है. केंद्र सरकार उनकी सुरक्षा की व्यवस्था करे. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि कश्मीरी पंडित कश्मीर में सुरक्षा चाहते हैं, लेकिन राहुल भट्ट की हत्या ने उन्हें भयभीत कर दिया है. ‘आप’ के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जिन अफसरों ने प्रदर्शन कर रहे कश्मीरी पंडितों पर लाठियां बरसाईं और आंसू गैस छोड़े, उन्हें तुरंत बर्खास्त किया जाए. अगर कश्मीर में रह रहे लोगों को वहां सुरक्षा नहीं मिलेगी, तो फिर देश के दूसरे हिस्सों में रह रहे कश्मीरी पंडित किस भरोसे पर वापस आकर रहने की सोचेंगे. देश के विभिन्न राज्यों में बसे कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा और उनके पुनर्वास के लिए हम सबको मिलकर काम करना है.

ये भी पढ़ें: बुलडोजर एक्शन पर जमकर बरसे सीएम केजरीवाल, कहा- दिल्ली के 63 लाख लोग होंगे प्रभावित, विधायक कार्रवाई के विरोध में आएं सामने

कुछ दिनों पहले सरकारी कर्मचारी राहुल भट्ट की हत्या की गई थी

सीएम अरविंद केजरीवाल ने राहुल भट्ट के कत्ल के मामले में एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले कश्मीर में एक सरकारी मुलाजिम राहुल भट्ट की हत्या कर दी गई. कुछ आतंकवादी उनके ऑफिस में गए, उनका नाम पूछा और उन्हें गोली मार दी. ऐसा लगता है कि वो ये सोचकर आए थे कि किसी कश्मीरी पंडित को ही निशाना बनाना है. हमारी सेना ने 24 घंटे के अंदर वहां दो आतंकवादियों को ढूंढकर उन्हें मार गिराया, पर आज पूरा देश इस बात से चिंतित है कि कश्मीर में आज भी कश्मीरी पंडित सुरक्षित क्यों नहीं हैं ?

ये भी पढ़ें: दिल्ली में 6732 मेगावाट तक पहुंच गई पावर डिमांड, स्कूलों में गर्मी छुट्टी की मांग

कश्मीरी पंडितों पर लाठियां बरसाने वाले अफसरों को तुरंत किया जाए बर्खास्त- केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस हादसे पर नाराजगी जताने के लिए जब वो लोग प्रदर्शन कर रहे थे, तो उन्हें रोका गया, उन पर लाठियां बरसाई गईं, उन पर टीयर गैस छोड़े गए और उनकी ही कॉलोनी में ताला बंद कर दिया गया. जिन अफसरों ने यह किया, उन्हें तुरंत बर्खास्त किया जाए. यह राजनीति का वक्त नहीं है. यह राजनीति का नहीं, देश का मुद्दा है. कश्मीरी पंडित सुरक्षा चाहते हैं. उनका परिवार और उनके लोग वहां सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: अगर देश को कैंसर मुक्त बनाना है, तो सबसे पहले इससे जुड़े मिथकों और विकृत मानसिकता को मिटाने के लिए जन जागृति कार्यक्रमों में लानी होगी तेजी- सत्येंद्र जैन

कश्मीरी पंडितों को दोबारा कश्मीर में बसाने की व्यवस्था की जाए- केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार से मेरी गुजारिश है कि कश्मीरी पंडितों को वापस कश्मीर में बसाने के लिए जो भी सुरक्षा-व्यवस्था करनी पड़े, वो करे. इसके लिए जितना भी खर्च करना पड़े, वो खर्च किया जाए और प्रदर्शन करने वाले कश्मीरी पंडितों पर लाठी न चलाई जाए. हमें उन्हें गले लगाना है, वो हमारे अपने हैं, उन पर टीयर गैस के गोले नहीं छोड़ने हैं. आतंकी और देश के दुश्मन यह समझ लें कि अगर उन्होंने कश्मीरी पंडितों को गलत इरादे से देखा भी, तो उन्हें भारत छोड़ेगा नहीं. आज देश के विभिन्न राज्यों में कश्मीरी पंडित बसे हुए हैं, दिल्ली में भी हैं. उनकी सुरक्षा और उनके पुनर्वास का काम हम सबको एक साथ मिलकर काम करना है. पूरा देश अपने कश्मीरी भाई-बहनों के साथ खड़ा है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली सरकार ने एंटी ओपन बर्निंग अभियान को 13 जून तक के लिए बढ़ाया: गोपाल राय