Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली/पंजाब। सिख दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर को दिल्ली कांग्रेस के स्थायी इनवाइटी बनाने से विवाद छिड़ गया है. अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने इसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने राष्ट्रीय से लेकर पंजाब कांग्रेस तक को इस मुद्दे पर घेरा है. उन्होंने पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से भी सवाल पूछा. उन्होंने फैसले पर हैरानी जताई और कहा कि पंजाब कांग्रेस के नेताओं की चुप्पी चुभने वाली है.

Social Media: पंजाब कांग्रेस ने 21 जनरल सेक्रेटरी और सेक्रेटरी नियुक्त किए, अकाली दल के पूर्व IT हेड भी शामिल

 

सिरसा ने कहा कि कांग्रेस हाईकमान ने सिख दंगे के प्रमुख आरोपी और मास्टरमाइंड को इतना बड़ा पद दे दिया है. उन्होंने कहा कि सिखों का कत्ल करने वालों को कांग्रेस में पूरा सम्मान दिया जा रहा है. वह भी उस व्यक्ति को जिसके खिलाफ CBI केस पेंडिंग हो. मनजिंदर सिरसा ने नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा कि चरित्र का पतन समझौते से होता है. सिरसा ने कहा कि 1984 कत्लेआम के मास्टरमाइंड को पुरस्कृत करने पर चुप रहने को समझौता कहते हैं.

भाजपा फिलहाल कहीं नहीं जा रही, मगर राहुल को इस बात का अहसास नहीं : प्रशांत किशोर

 

मनजिंदर सिरसा ने प्रियंका गांधी पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि प्रिंयका गांधी को बताना चाहिए कि गांधी फैमिली बार-बार सिख कत्लेआम के आरोपियों को इनाम क्यों दे रही है ? इधर दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि पूर्व सांसद पार्टी में स्थायी मेंबर रहते हैं. टाइटलर को कोई नया पद नहीं दिया गया है. जब से हमारी समिति चल रही है, टाइटलर करीब 30 साल से इसमें हैं.