Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के लखनऊ से दिल्ली के लिए ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों के लिए बेहद अच्छी खबर है. रेलवे की ओर से मंगलवार को लखनऊ से दिल्ली और दिल्ली से लखनऊ के लिए दिल्ली-लखनऊ डबल डेकर एसी ट्रेन की शुरुआत की जा रही है. दरअसल, उत्तर प्रदेश के लखनऊ और देश की राजधानी दिल्ली के बीच चलने वाली डबल डेकर ट्रेन पिछले 3 साल से बंद पड़ी थी, जिसका संचालन अब एक बार फिर शुरू होने जा रहा है. रेल यात्रियों के लंबे इंतजार के बाद लखनऊ के अलग-अलग हिस्सों से दिल्ली पहुंचने वाले यात्रियों के लिए उत्तरी रेलवे ने लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल के बीच डबल डेकर ट्रेन चलाने का फैसला लिया है.

ये भी पढ़ें: आपके काम की खबर: 21 मई से 24 मई तक नहीं चलेगी जालंधर एक्सप्रेस, 25 मई तक कुल 31 यात्री ट्रेनें रहेंगी रद्द, जानिए वजह और कौन-कौन से रूट होंगे प्रभावित

एसी डबल डेकर ट्रेन अब सप्ताह में 6 दिन के बजाय 4 दिन चलेगी

रेलवे के अनुसार 10 मई से एक बार फिर इस ट्रेन का संचालन किया जा रहा है. ये ट्रेन लखनऊ से शुरू होकर वाया मुरादाबाद होते हुए दिल्ली के आनंद विहार तक का सफर तय करेगी. रेलवे बोर्ड ने कहा कि यह एसी डबल डेकर ट्रेन सप्ताह में 6 दिन के बजाए 4 दिन चलेगी. इसी के साथ ही इस ट्रेन में सीटों का रिजर्वेशन भी शुरू गया है. इस ट्रेन के चलने से लखनऊ से दिल्ली जाने वाले यात्रियों को काफी ज्यादा राहत पहुंचेगी. खासकर गर्मियों के मौसम में कम खर्च में एसी ट्रेन का आनंद भी मिल जाएगा और समय से यात्रा भी पूरी हो जाएगी. ट्रेन नंबर 12583 डबल डेकर ट्रेन 10 मई से हफ्ते में चार दिन मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार और रविवार को चलने लगेगी, जो कि लखनऊ जंक्शन से सुबह 4:55 बजे चलेगी, बरेली, मुरादाबाद, गाजियाबाद होते हुए 12.55 बजे दिल्ली के आनंद विहार स्टेशन पहुंचेगी.

ये भी पढ़ें: जहांगीरपुरी हिंसा: जिस पर कर रही थी पुलिस सबसे ज्यादा भरोसा, वही निकला मुख्य आरोपी, मामले में तबरेज खान समेत 3 और आरोपी गिरफ्तार

दूसरी ओर के फेरे में ये रहेगी टाइमिंग

वहीं दूसरी ओर के फेरे में ट्रेन संख्या 12584 आनंद विहार टर्मिनल से लखनऊ डबल 10 मई से हर मंगलवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार और रविवार को आनंद विहार टर्मिनल से दोपहर 02.05 बजे तक चलेगी, जो रात 10.30 बजे लखनऊ पहुंच जाएगी.

ये भी पढ़ें: शाहीन बाग में अतिक्रमण हटाने के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई से किया इनकार, निगम के बुलडोजर भी ‘न के बराबर’ कार्रवाई कर वापस लौटे