Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

महाराष्ट्र में सीएम उद्धव ठाकरे के इस्तीफा के बाद नई सरकार बनाने की कवायद तेज हो गई है. बीजेपी की अगुवाई में एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस को डिप्टी सीएम बनाना तय हो गया है. अब फडणवीस शिंदे के साथ राजभवन में डिप्टी सीएम पद की शपथ लेंगे. फडणवीस के इस फैसले को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट किया है.

उन्होंने लिखा है कि- ‘भाजपा ने महाराष्ट्र की जनता की भलाई के लिए बड़े मन का परिचय देते हुए एकनाथ शिंदे जी का समर्थन करने का निर्णय किया. श्री देवेन्द्र फडणवीस जी ने भी बड़े मन दिखाते हुए मंत्रिमंडल में शामिल होने का निर्णय किया है, जो महाराष्ट्र की जनता के प्रति उनके लगाव को दर्शाता है.’

31 अक्टूबर 2014 को फडणवीस 44 साल की उम्र में महाराष्ट्र के दूसरे सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री बने. एनसीपी प्रमुख शरद पवार सबसे कम उम्र के थे, जब उन्होंने 38 साल की उम्र में 18 जुलाई 1978 में महाराष्ट्र के सीएम के रूप में शपथ ली थी. देवेंद्र फडणवीस 2014 से 2019 तक महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. 2014 के चुनाव में बीजेपी 122 सीट जीतने के बाद सबसे बड़ी पार्टी बनी थी. उसे तब एनसीपी ने बाहर से समर्थन किया था. बाद में बीजेपी को शिवसेना से भी सपोर्ट मिल गया था.

2019 के चुनाव में भी बीजेपी ने 100 से ज्यादा सीटें जीती थी. हालांकि मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर बीजेपी और शिवसेना में तकरार हो गया था. बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी से हाथ मिला लिया और उद्वव ठाकरे को मुख्यमंत्री चुना गया. इसी बीच 23 नवंबर, 2019 को देवेंद्र फडणवीस को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई. साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अजीत पवार को उनके डिप्टी के रूप में शपथ दिलाई गई.

देवेंद्र फडणवीस का राजनीतिक सफर
देवेंद्र फडणवीस ने अपने कॅरियर की शुरुआत त्रिकोनी पार्क में एक आरएसएस शाखा से की थी. वह वार्ड अध्यक्ष के रूप में भाजपा की महाराष्ट्र इकाई में शामिल हुए. साल 1986 से 1989 के दौरान वह एबीवीपी के सक्रिय सदस्य थे और उन्होंने युवाओं को समाज के पुनर्निर्माण की दिशा में प्रेरित किया. वह दीवारों को पेंट करते थे और उन पर राजनेताओं के प्रचार पोस्टर चिपकाते थे. इसके साथ ही वे राजनीति में युवाओं की भागीदारी के प्रबल समर्थक और स्वामी विवेकानंद के दर्शन के कट्टर समर्थक भी रहे हैं.
21 साल की छोटी उम्र में वह नागपुर नगर निगम के सबसे कम उम्र के नगर पार्षद बन गए. उन्होंने 1992 से 1997 तक लगातार दो बार काम किया. वह महाराष्ट्र राज्य में मेयर के रूप में फिर से चुने जाने वाले एकमात्र व्यक्ति भी हैं.कथित तौर पर फडणवीस को गोपीनाथ मुंडे ने सुर्खियों में लाए थे, जो उन्हें एक होनहार युवा नेता मानते थे. वह टेक्नोलॉजी से बहुत प्यार करते हैं और वह हमेशा अपने साथ एक आईफोन और एक आईपैड रखते हैं.

2014 में दूसरे सबसे कम उम्र के बने थे सीएम
31 अक्टूबर 2014 को फडणवीस 44 साल की उम्र में महाराष्ट्र के दूसरे सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री बने. एनसीपी प्रमुख शरद पवार सबसे कम उम्र के थे, जब उन्होंने 38 साल की उम्र में 18 जुलाई 1978 में महाराष्ट्र के सीएम के रूप में शपथ ली थी. सुधीर मुनगंटीवार को एक और कार्यकाल देने के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी के सुझाव को दरकिनार करते हुए तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने फडणवीस को भाजपा की महाराष्ट्र इकाई का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था. फडणवीस ने 2014 के आम चुनावों के दौरान महाराष्ट्र में पार्टी का नेतृत्व किया था. अक्टूबर 2019 में वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में अपना पूर्ण कार्यकाल पूरा करने वाले दूसरे व्यक्ति बने. 1963 से 1975 तक ऐसा करने वाले वसंतराव नाइक पहले व्यक्ति थे.