धरमलाल कौशिक पर लगे आरोप से भड़की भाजपा, महिला मोर्चा की अध्यक्ष ने कहा- आरोप शर्मनाक आधारहीन और राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित

रायपुर। भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष पूजा विधानी ने एक महिला द्वारा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक के विरुद्ध लगाए गए आरोप को बदले की राजनीति के पतन की हद करार देते हुए इन आरोपों को बेहद निंदनीय, शर्मनाक, आधारहीन और राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित बताया है।

विधानी ने कहा की दरअसल उस महिला का राजनीतिक बदले के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। पहले तो सीडी कांड की दिशा मोड़ने के लिए भाजपा कार्यकर्ता प्रकाश बजाज के खिलाफ छेड़छाड़ का झूठा मुकदमा दर्ज करवाया गया। नैतिक पतन की पराकाष्ठा यह है कि अब नेता प्रतिपक्ष पर झूठा आरोप लगवाकर उनकी चरित्र हत्या का षडयंत्र रचा जा रहा है। सार्वजनिक जीवन में कौशिक पर कभी भी किसी भी तरह का आरोप नहीं लगा। उनका संपूर्ण जीवन खुली किताब की तरह है। नारी शक्ति का सम्मान करते हुए उन्हें आगे बढ़ने की प्रेरणा देने वाले कौशिक पर घृणित आरोप लगाए जाना बदलापुर की राजनीति का नया अध्याय है। यह भाजपा का चरित्र नहीं है कि कोई नेता किसी भी महिला के साथ अभद्र व्यवहार करे। यह आचरण तो षड्यंत्रकारियों को विरासत में मिला है।

विधानी ने कहा कि अपनी ही पार्टी का प्रचार करने आई स्टार प्रचारक अभिनेत्री के साथ किस तरह का भ्रातत्व भाव दिखाया गया था, वह किसी से छुपा नहीं है। विधानी ने कहा कि आरोप लगाने वाली महिला के कंधे पर बंदूक रखकर जिस तरह निम्न स्तर की राजनीति का प्रदर्शन किया गया है, वह छत्तीसगढ़ की राजनीतिक मर्यादा को पूरी तरह तार तार कर गया है। राजनीति में वैचारिक मतभेद का अर्थ यह नहीं होता कि विपक्ष के नेता की चरित्र हत्या की साजिश रची जाए। लेकिन दुर्भाग्य से छत्तीसगढ़ में अब षड्यंत्रों की राजनीति का दौर शुरू हो गया है।

इसे भी पढ़ें : BREAKING- BJP नेता प्रकाश बजाज को जेल पहुंचाने वाली महिला ने अब लगाया धरमलाल कौशिक पर छेड़छाड़ का आरोप, जवाब में बोले कौशिक-‘मैं महिला को जानता तक नहीं’

नेता प्रतिपक्ष कौशिक पर आरोप लगाने वाली महिला को राजनीतिक कठपुतली बनने से बचने और नारी अस्मिता के सम्मान को बनाए रखने की सलाह देते हुए विधानी ने कहा कि अगर उनके साथ 3 साल पहले कोई अभद्रता हुई थी तो वह अब तक मौन व्रत क्यों धारण किए हुए थीं।  विधानी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता प्रकाश बजाज पर छेड़छाड़ का आरोप लगाने के कुछ ही समय बाद नेता प्रतिपक्ष पर निम्न स्तर का आरोप लगाया जाना यह साबित करता है कि दोनों ही मामले एक ही स्थान से प्रायोजित और संचालित हो रहे हैं।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।