दिग्विजय सिंह ने फिर MP में CM बदलने का किया दावा, शिवराज सरकार को लेकर कही ये बड़ी बात…

हेमंत शर्मा, इंदौर। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर केंद्र और राज्य सरकार पर निशाना साधा है. दिग्विजय सिंह ने मध्यप्रदेश में जारी एंटी माफिया अभियान पर सवाल उठाए हैं, तो दूसरी तरफ शासन और प्रशासन पर दोहरे मापदंड अपनाकर कार्रवाई करने का आरोप भी लगाया है.

दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर दावा किया है कि मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री का चेहरा बदलने वाला है, लेकिन अब आदिवासियों की जमीन पर कब्जे के आरोप के चलते वीडी शर्मा के नंबर कम हो गए हैं. वहीं दिग्विजय ने कहा कि आगामी उपचुनाव के नतीजों से सरकार को धक्का लगेगा.

इसे भी पढ़ेः उपचुनाव को लेकर EC ने जारी की गाइडलाइन, जानिए इस दफा नेताजी कैसे कर पाएंगे प्रचार…

दिग्विजय सिंह ने कहा कि प्रशासन कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ पक्षपात कर रहा है. जबकि इंदौर में आदतन अपराधियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. उनकी हिम्मत इतनी बड़ी हुई है कि वे मंत्री के गले में सोने की चेन पहनाते हैं. उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री की रैली पर कोई कार्रवाई नहीं होती है. जबकि कांग्रेस की रैली ओर प्रदर्शन पर कार्रवाई होती है. इसी भेदभाव के खिलाफ कांग्रेस पार्टी आंदोलन कर रही है. प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो गई है. हालात यह है कि इंदौर में शराब ठेकेदारों की मीटिंग में गोलियां चल रही है. अपराधियों को संरक्षण मिला हुआ है. कांग्रेस नेता राजू भदौरिया पर जिला बदर का प्रकरण नहीं बनता है उन पर छोटे मामले हैं.

इसे भी पढ़ेः EOW ने की WCL पर बड़ी कार्रवाई, प्रदूषण बोर्ड व खनिज अधिकारियों समेत 10 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज

दिग्विजय सिंह ने सड़क पर आकर शासन के रवैये के खिलाफ आंदोलन में भाग लेने वाले कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आभार भी जताया है. केंद्र और प्रदेश की भाजपा सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि सात सालों में देश मे हालात बिगड़े हैं. किसान कानून को लेकर किसानों से कोई चर्चा नहीं की गई. कृषि व्यापार पर कब्जा कराने के लिए तीनों कानून लाए गए. किसानों के साथ ही उपभोक्ताओं का भी नुकसान है. देश मे डीजल खाद के भाव बड़ रहे हैं. दिग्विजय सिंह ने कहा कि मोदी जी ने किसानों की आमदनी डबल करने की बात कही थी, लेकिन किसानों की हालत बिगड़ रहे हैं. देश की संसद भवन की बिल्डिंग अच्छी है, लेकिन बिना टेंडर लगाए और किसी से चर्चा किए बिल्डिंग बनाने का काम शुरू कर दिया गया.

इसे भी पढ़ेः MP News: कांग्रेस की रैली पर प्रशासन की कार्रवाई, कई नेताओं पर FIR दर्ज

वहीं सरस्वती शिशु मंदिर को लेकर दिए गए बयान को लेकर मचे बवाल पर दिग्विजय सिंह का कहना है कि मैं सद्भाव को बिगाड़ने वाली विचारधारा के खिलाफ रहा हूं. उन्होंने कहा कि मेरे पास प्रमाण और तथ्य मौजूद हैं. जिसके आधार पर मैंने सरस्वती शिशु मंदिर को लेकर बयान दिया था.

इसे भी पढ़ेः  विवादित बयान के बाद रामेश्वर शर्मा ने राजपूत समाज से मांगी माफी, कांग्रेस बोली- भाजपा नेता का मानसिक संतुलन बिगड़ा

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।