Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

सदफ हामिद, भोपाल। राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह के सरस्वती शिशु मंदिर को लेकर दिए गए बयान पर सियासत तेज हो गई है। शनिवार को बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने दिग्विजय सिंह पर करारा हमला किया था। सोमवार को शर्मा ने सरस्वती शिशु मंदिर के छात्रों को घर बुलाकर उनसे दिग्विजय सिंह के खिलाफ विरोध जताया।

बच्चों ने हाथों में स्लोगन वाली तख्तियां लेकर दिग्विजय सिंह के बयान का विरोध जताया। छात्रों ने कहा कि मैं आशावादी हूं, आतंकवादी और दंगाई नहीं… दिग्विजय अंकल मैं सरस्वती मंदिर का छात्र हूं, दंगाई नहीं।

इसे भी पढ़ेः आज भारत बंदः राजधानी में किसानों का बड़ा आंदोलन, दिग्विजय सिंह भी होंगे शामिल

रामेश्वर शर्मा ने दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह को शिक्षा के मंदिर को राजनीति का अखाड़ा नहीं बनाना था। यहां संस्कार दिए जाते हैं देश भक्ति बताई जाती है’। ‘दिग्विजय सिंह सोचना विचारना है तो मदरसे को लेकर सोचो जहां वंदे मातरम गाने को लेकर मना कर दिया जाता है, सवाल मदरसों से पूछो’।

इसे भी पढ़ेः प्रदेश में बढ़ रहा डेंगू का कहर, 4500 से ज्यादा मरीज आए सामने
जानिय क्या है पूरा मामला
गौरतलब है कि पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने के लिए स्कूलों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। दिग्विजय ने कहा है कि सरस्वती शिशु मंदिर में दूसरे धर्मों के खिलाफ नफरत का बीज बोया जा रहा है। इसी से फिर सांप्रदायिक कटुता और दंगे-फसाद होते हैं. जिस पर प्रज्ञा ठाकुर ने पलटवार किया है।

इसे भी पढ़ेंः महिला हॉकी टीम का भोपाल आगमन, शिवराज सरकार करेगी सम्मान, हर खिलाड़ी को मिलेंगे इतने रुपये

">
Share: