फिर एक बार कायम हुई मानवता की मिसाल, टीएस सिंहदेव की बहू से मिली जरूरतमंद को सहायता

रायपुर। बापू के पदचिन्हों पर चलते हुए सिंहदेव परिवार वंचितों के साथ खड़ा है. घटना गुरुवार शाम 1 अक्टूबर की है, जब प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की बहू त्रिशाला सिंहदेव सिविल लाइन्स स्थित निवास से बाहर निकली तो सड़क पर पैरों से विकलांग व्यक्ति को देखकर उनके पास पहुंची और उनकी परेशानी जानी.

विकलांग व्यक्ति ने अपना नाम छेदुलाल और निवास स्थान खरसिया बताया, जिस पर आश्चर्यचकित होकर उन्होंने जानने का प्रयास किया कि वह किस प्रकार अपने घर तक का सफर तय करेंगे. छेदुलाल द्वारा कोई संतोषजनक उत्तर न मिलने पर त्रिशाला सिंहदेव ने उनसे निवास पर रुकने का आग्रह एवं भोजन पर आमंत्रित किया.

छेदुलाल ने आज बताया कि भोजन उपरांत उन्हें कपड़े और ठहरने के लिए जगह दी गई. इसके साथ ही सुबह उन्हें बैटरी चलित ट्राय-साईकल, हेलमेट, मास्क आदि प्रदान कर आदरपूर्वक विदा किया.

आज जहां कोरोना संक्रमण के बीच सामाजिक दूरियां बढ़ी हैं. वहीं इस प्रकार के उदाहरण सिद्ध करते हैं कि महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री के आदर्शों पर चलते हुए सिंहदेव परिवार ने पीढ़ी दर पीढ़ी जनसेवा जारी रखी है.

ऐसी खबरें यह दर्शाती हैं कि देश में मानवता अभी भी जीवित है. इस प्रकार की घटनाएं देश की युवा पीढ़ी के लिए उदाहरण है कि किस प्रकार जरूरतमंदों की मदद कर हम एक आदर्श समाज का निर्माण कर सकते हैं.

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।