पहले डॉक्टर ने धूमधाम से मनाया अपना जन्मदिन और फिर एनेस्थिसिया का ओवरडोज लेकर मौत को लगा लिया गले

शैलेन्द्र पाठक,बिलासपुर– शहर की जानी मानी एनेस्थिसिया विशेषज्ञ डॉ अलका रहालकर ने बीती रात अपना 60 वां जन्मदिन सेलीब्रेट करने के बाद आश्चर्यजनक तरीके से सुसाइड कर लिया. सिविल लाइन पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक डॉ अलका रहालकर पिछले कुछ दिनों से अकेलेपन और डिप्रेशन के दौर से गुजर रहीं थी.साथ ही अपने पति कैंसर सर्जन डॉ चंद्रशेखर रहालकर के हार्ट संबंधी बीमारी से परेशान थीं.

डॉ अलका एनेस्थिसिया की विशेषज्ञ डॉक्टर थीं और इसी विधा को उन्होंने आत्महत्या करने में प्रयोग किया. बीती रात उन्होंने एक सुसाइड नोट लिखा,जिसमें उन्होंने अपने जीवन से पूरी तरह संतुष्ट होने की बात कही और कहा कि वे अपनी मौत के लिये खुद जिम्मेदार हैं,इसलिये उनका पोस्टमार्टम न किया जाये.

डॉ अलका ने कल रात ही पूरे धूमधाम से अपना 60 वां जन्मदिन सेलीब्रेट किया और मेहमानों के चले जाने के बाद अपने बेडरुम में खुद को बेहोशी का ओवरडोज इंजेक्शन लगाकर हमेशा हमेशा के लिये सो गईं.इससे पहले उन्होंने सिंगापुर में रह रहे अपने बेटे को कॉल लगाया,लेकिन कॉल नहीं लगने के कारण बातचीत नहीं हो पाई. पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट में डॉ अलका ने आत्महत्या के कारण की जानकारी नहीं दी है.

सिविल लाइन पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक डॉ अलका के पति डॉ चंद्रशेखर रहालकर को पिछले दो साल से हार्ट की बीमारी थी और उनका इलाज रायपुर के एक निजी अस्पताल में चल रहा था. आत्महत्या के एक दिन पहले ही डॉ अलका अपने पति का इलाज कराने रायपुर गई थीं और वहां से कल ही लौटी थी. बहरहाल पुलिस ने मामले में मर्ग कायम कर विवेचना शुरु कर दी है.

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।