जालंधर में शराब के नशे में डॉक्टर कर रहा था इलाज, इंजेक्शन लगाने के बाद 16 साल के नाबालिग की मौत

मृतक के परिजनों ने की आरोपी डॉक्टर की पिटाई

जालंधर। शराब के नशे में धुत एक डॉक्टर ने 16 साल के लड़के की जान ले ली. दरअसल डॉक्टर नशे में ही नाबालिग का इलाज कर रहा था. उसने मरीज को इंजेक्शन दिया, लेकिन आधे घंटे के बाद लड़के ने दम तोड़ दिया. भड़के लोगों ने पहले डॉक्टर की जमकर पिटाई की, फिर सड़क पर जाम लगा दिया. विवाद बढ़ने पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी डॉक्टर को हिरासत में लिया. मेडिकल जांच में डॉक्टर के शराब पीने की पुष्टि हो गई. अब आरोपी डॉक्टर जितेंद्र सिंह के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है.

गुरनाम सिंह चढूनी बोले- BJP हमें धर्म और जाति में बांटना चाहती है, सरकार को चेतावनी, मंत्री को जल्द करें गिरफ्तार, वरना…

 

नाबालिग मरीज को मुकेरियां से रेफर किया गया था

मुकेरियां के रहने वाले चंदर ने बताया कि 16 साल के बेटे वंश का स्कूल बस से एक्सीडेंट हो गया था. उसे इलाज के लिए मुकेरियां से रेफर किया गया था. परिजन इलाज के लिए मॉडल टाउन में मिल्कबार चौक से सटे गार्डियन अस्पताल में ले आए. उसकी पसलियों में चोट लगी थी. करीब साढ़े 6 बजे उसे इलाज के लिए भर्ती किया गया.

 

परिजनों ने गलत इलाज का लगाया आरोप

परिजनों ने बताया कि डॉक्टर ने उसे इंजेक्शन लगाया, लेकिन आधे घंटे के बाद ही वंश की मौत हो गई. जब वो डॉक्टर से पूछने गए तो देखा कि वह नशे में धुत था, इससे परिजन आक्रोशित हो उठे. उन्होंने आरोप लगाया कि डॉक्टर ने नशे में गलत इंजेक्शन लगा दिया. उन्होंने डॉक्टर को बाहर निकालकर उसकी पिटाई शुरू कर दी. कुछ परिजनों ने सड़क जाम करते हुए विरोध-प्रदर्शन किया.

Domestic Flights to Operate at Full Capacity from October 18

 

डॉक्टर पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस ने डॉक्टर को हिरासत में ले लिया. उसका सिविल अस्पताल में मेडिकल करवाया गया. जहां उसके नशे में होने की पुष्टि हो गई.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।