Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

दीपक ताम्रकार, डिंडोरी। मध्यप्रदेश के डिंडोरी कलेक्टर रत्नाकर झा ने जिले के सभी शासकीय कार्यालयों को 21 मई और 22 मई मतलब रविवार को खोलने के लिखित आदेश जारी किए थे. लेकिन समनापुर विकासखंड मुख्यालय में कलेक्टर के आदेशों को कितनी गंभीरता से लिया गया है. इसकी बानगी वीडियो में साफ दिखाई दे रही है. कई विभाग में ताला लटका दिखाई दिया, तो कई में खाली कुर्सी दिखाई दी और साहब नदारद मिले. इसका मतलब साफ है कि कलेक्टर की की नीचले स्तर के अधिकारी नहीं सुन रहे हैं.

तिलक में बुलेट की डिमांड: फलदान चढ़ाने आए वधू पक्ष के साथ मारपीट, 4 लोग घायल, लड़के के बुलेट मांगने पर हुआ था विवाद

दरअसल आगामी दिनों में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर कलेक्टर ने एक आदेश पत्र जारी किया था. जिसमें उल्लेख है कि जिले के सभी शासकीय कार्यालय 21 मई और 22 मई को अति आवश्यक कार्य के चलते खोले जाएंगे. लेकिन समनापुर में अधिकारी कलेक्टर के आदेश को जरा भी महत्व न दे देते हुए नदारद रहे या यूं कहें उनके आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं.

शर्म करें जनता को वोट बैंक समझने वाले जनप्रतिनिधि ! पंचायत ने नहीं दिया ध्यान, तो ग्रामीणों ने सामूहिक श्रमदान कर पुराने तालाब के जीर्णोद्धार का उठाया बीड़ा

इतना ही नहीं जो कार्यालय खुले रहे उनमें कुर्सियां खाली दिखाई दी. अधिकारी नदारद रहे. इनमें जनपद पंचायत समनापुर कार्यालय, जनपद शिक्षा केंद्र समनापुर, महिला बाल विकास समनापुर, नायब तहसीलदार कार्यालय समनापुर, वन मंडल अधिकारी समनापुर और कृषि कार्यालय समनापुर शामिल है. अब देखना होगा कि खबर प्रकाशित किए जाने के बाद जिला कलेक्टर अधिकारियों के खिलाफ क्या कार्रवाई करते हैं?

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus