whatsapp

CG में आबकारी टीम पर हमला : शराब पकड़ने गई टीम पर ग्रामीणों ने बरसाए पत्थर, गाड़ी में की तोड़फोड़, जान बचाकर भागे अफसर

वीरेंद्र गहवई, बिलासपुर. महुआ शराब बनाने की सूचना पाकर कार्रवाई के लिए पहुंची आबकारी की टीम पर हमला करने का मामला सामने आया है. आरोपियों ने महिलाओं के साथ मिलकर आबकारी टीम पर पत्थर बरसाए. इस बीच युवक ने आबकारी अधिकारियों पर लाठी से हमला किया. हमले के दौरान लोगों ने आबकारी टीम के वाहन को भी नुकसान पहुंचाया है. आबकारी अधिकारियों की रिपोर्ट पर सीपत पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. अन्य की तलाश की जा रही है.

यह घटना सीपत क्षेत्र के ग्राम भिलमी की है. आबकारी अमले को सूचना मिली थी कि सीपत क्षेत्र के ग्राम भिलमी में भारी मात्रा में महुआ शराब बनाई जा रही है. इस पर आबकारी विभाग की टीम ग्रामीण सुमीत वर्मा के ठिकाने पर दबिश दी. उसके मकान में 85 लीटर महुआ शराब मिली, अधिकारी इसे जब्त कर कार्रवाई में जुटे थे. इसी दौरान सुमीत ने गांव की महिलाओं को बुला लिया.

महिलाओं ने आते ही टीम में शामिल आबकारी एसआई आनंद वर्मा, मुकेश पांडेय, रमेश दुबे, एश्वर्या मिंज, प्रधान आरक्षक जनक राम जगत, आरक्षक अनिल पांडेय, निरंजन डडसेना, कल्याण कहरा, प्रभुवन बघेल व उपेंद्र सिंह से गाली-गलौज की. इसका विरोध करने पर उसने लाठी से हमले का प्रयास किया. इस दौरान गांव की महिला अनुराधा सूर्यवंशी, जीतू वर्मा, सीमा वर्मा, अंजनी वर्मा, दिव्यानी वर्मा और सुनीता वर्मा ने आबकारी टीम पर पत्थर बरसाना शुरू कर दिया.

महिलाओं ने आबकारी टीम की कार पर भी पत्थर चलाए. इससे कार का शीशा टूट गया. खुद पर हुए हमले से सहमी आबकारी की टीम जान बचाकर गांव से भाग गई और सीपत थाना पहुंचकर मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई, जिस पर पुलिस ने मुख्य आरोपी सुमीत वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच कर रही है.

Related Articles

Back to top button