किसानों ने प्रतिबंध के बावजूद कलेक्ट्रेट परिसर में किया प्रदर्शन, कृषि उपज मंडी खोलने के साथ रखी यह मांग…

राजनांदगांव। कोरोना काल में धरना-प्रदर्शन पर प्रतिबंध होने के बाद भी जिला किसान संघ ने कलेक्ट्रेट परिसर में अपनी विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन किया. किसान कोरोना काल में कृषि उपज मंडी खोलने के साथ राजीव गांधी किसान न्याय योजना की राशि एकमुश्त देने  की मांग कर रहे थे.

Close Button

जिला किसान संघ से जुड़े किसानों ने कलेक्ट्रेट परिसर में केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की. इसके बाद प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम सौंपे गए ज्ञापन में किसानों ने कहा कि कोरोना की वजह से कृषि उपज मंडी बंद होने से उन्हें फसल बेचने में दिक्कत हो रही है. लॉकडाउन में छूट देते हुए जब कई प्रतिष्ठानों को खोला जा रहे हैं, तो फिर कृषि उपज मंडी भी चालू करना चाहिए.

इसे भी पढ़ें : BREAKING : सिलगेर सीआरपीएफ कैंप पर नक्सली हमला, गोलीबारी में तीन ग्रामीण की मौत की खबर…

मुख्यमंत्री के नाम सौपे गए ज्ञापन में किसानों ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्या. योजना की राशि एकमुश्त दी जानी चाहिए, वहीं तेंदूपत्ता संग्राहक को 2 वर्ष का बकाया बोनस भी दिया जाए. किसानों ने प्रधानमंत्री के नाम सौंपे गए ज्ञापन में केंद्र सरकार से रसायनिक उर्वरक के बढ़े दाम वापस लेने और पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने की गुहार लगाई.

Read more : Bill Gates Resigns from the Board Amidst Allegations by a Female Employee

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।