देश में पंजाब के किसानों की आय मेघालय के बाद सबसे ज्यादा, हरियाणा में भी खुशहाली

झारखंड के किसानों की आय सबसे कम

चंडीगढ़। पंजाब के किसान देश में काफी खुशहाल हैं. यहां के किसानों की आय मेघालय के बाद सबसे ज्यादा है. पंजाब के किसानों की आय प्रतिमाह औसतन 26 हजार 701 रुपए है. इसके बाद तीसरा नंबर हरियाणा के किसानों का है. नेशनल सैंपल सर्वे की रिपोर्ट में ये बात सामने आई है. इस सर्वे में अंडमान निकोबार द्वीप समूह के किसानों को शामिल नहीं किया गया है.

कैप्टन अमरिंदर सिंह का किसानों को दो टूक, कहा- ‘आंदोलन करना है तो दिल्ली या हरियाणा जाएं’

मेघालय के किसानों की इनकम सबसे ज्यादा

मेघालय के किसान परिवारों की औसत मासिक आय सबसे ज्यादा यानी 29 हजार 348 रुपए है. वहीं सबसे कम आय झारखंड के किसान परिवारों की है. इनकी औसत आमदनी प्रति माह सिर्फ 4 हजार 895 रुपए है. इसमें फसल से होने वाली आमदनी का योगदान 1,102 रुपए ही है. मजदूरी से 2,783 रुपए, लीज की खेती से 24, पशुधन से 827 और गैर कृषि कार्य से 158 की कमाई कुल आय में शामिल है. ये आय दूसरे सभी राज्यों के किसानों से कम है.

State to Launch Anti-Dengue Camp on Sept 15

 

नेशनल सैंपल सर्वे की रिपोर्ट तैयार करने में आर्थिक पहलुओं को शामिल किया गया. इसमें जमीन, मजदूरी, लीज पर खेती, फसल के अलावा दूसरे काम से होने वाली आमदनी भी शामिल की गई है.

देश के किसानों की औसत मंथली इनकम 10 हजार 218 रुपए

जुलाई 2018 से जून 2019 और 1 जनवरी 2019 से 31 दिसंबर 2019 के बीच हुए इस सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार किसानों की प्रति महीने आय 10,218 रुपए रही, जिसमें से वह 4,023 रुपए मजदूरी करके कमाते हैं. इसमें फसलों से होने वाली कमाई का योगदान 3,798 रुपए ही है. मतलब किसान की कुल आय में 40 फीसदी योगदान मजदूरी का है, जबकि फसलों की कमाई का योगदान केवल 37 (3,798) फीसदी ही है.

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।