क्यों मनाया जाता है फादर्स डे, जानें पूरी कहानी

रायपुर। सदियों से पिता का सम्मान होता रहा है, फिर चाहे युग कोई भी हो. बहुत सारी कहानियां इतिहास में पिता से जुड़ी हुई हैं. दुनिया में लोगो ने पिता को सम्मान देने के लिए एक दिन बनाया है. हर साल यूके में फादर्स डे जून के तीसरे रविवार को मनाया जाता.

फादर्स डे पूरी दुनिया में सेलिब्रेट किया जाता है जिसका मकसद बच्चों की लाइफ में पिता का क्या महत्व ये बताना और जताना है. सबसे पहले 19 जून 1910 को वाशिंगटन में इसे मनाया गया था. लेकिन 1972 में इसे आधिकारिक मान्यता मिली. साथ ही साथ इस दिन छुट्टी की भी घोषणा की गई.

जानकारी के अनुसार अमेरिकी राष्ट्रपति कैल्विन कोली ने 1924 में फादर्स डे को सहमति दे दी. फिर जून के तीसरे रविवार को राष्ट्रपति लिंडन जानसन ने 1966 में आधिकारिक तौर पर फादर्स डे की घोषणा की. फादर्स डे पर अमेरिका में 1972 में स्याथी रुप से अवकाश घोषित किया गया. अब जून के तीसरे रविवार को पूरे विश्व में फादर्स डे मनाया जाता है. धीरे -धीरे भारत में भी अब इसका प्रचार-प्रसार बढ़ रहा है. आमतौप पर ऐसा होता है कि लोग पिता के लिए अपने प्यार को खुलकर जाहिर नहीं कर पाते हैं, लेकिन जब कोई विशेष दिन निर्धारित कर दिया जाता है तो लोगो में अपनी फीलिंग्स को जाहिर करने की भावना अपने आप आ जाती है.

 

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।