RESULT 2019 : चुनाव जीतकर पहली बार संसद पहुचेंगे ये फ़िल्मी सितारे, इन्हें जनता ने नकारा, तो वही इन सितारों ने अपनी सीट रखी बरकरार ….

रायपुर। 17वी लोकसभा चुनाव के परिणाम आ चुके हैं 2019 का चुनाव सबकों चौंकाने वाला रहा है. इस चुनाव में अभिनेता से नेता बनें ऐसे कई फिल्मी सितारों की किस्मत भी दांव पर लगी हुई थी. तो चलिए लोक लोकसभा चुनाव 2019 में  हम आपको बताने वाले हैं ऐसे सितारों के बारे में जिन्होंने पहली बार जीत का स्वाद चखा है.

ये  फिल्मी  सितारे पहली बार पहुंचे संसद…

सनी देओल

अभिनेता सनी देओल ने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत जीत से करते हुए गुरदासपुर सीट से मौजूदा सांसद कांग्रेस के सुनील जाखड़ को शिकस्त दी है. देओल ने पंजाब कांग्रेस प्रमुख सुनील जाखड़ को 82,459 मतों से हराया है.  बता दें कि  इस सीट पर दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना बीजेपी की टिकट पर चार बार सांसद रह चुके हैं. अप्रैल 2017 में कैंसर से उनका निधन हो गया था. विनोद खन्ना के निधन के बाद अक्टूबर 2017 में हुए उपचुनाव में  सुनील जाखड़ 1192 लाख वोटों के अंतर से जीते थे.

 

नुसरत जहां

 पश्चिम बंगाल की मशहूर अभिनेत्री और मॉडल हैं. वो पहली बार चुनाव लड़ीं हैं. कोलकाता की रहने वाली हैं और यहीं के भवानीपुर कॉलेज से बीकॉम किया है. वो बशीरहाट लोकसभा सीट से मैदान में थीं. उन्होंने भाजपा के सायंतन बसु को 311835 वोट से हराया है. तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर नुसरत ने  621606 मत हासिल किए हैं.

 

रव‍ि किशन

पहली बार चुनावी मैदान में किस्मत आजमाने उतरे भाजपा प्रत्याशी रवि किशन ने सपा-बसपा के जिताऊ फॉर्मूले को ध्वस्त करते हुए गोरखपुर लोकसभा सीट पर भारी मतों सी जीत हासिल की है. उन्होंने बड़ी मार्जिन से सपा प्रत्याशी रामभुआल निषाद को हार का स्वाद चखाया है। रवि किशन ने जीत 717122 मत हासिल किए हैं.उन्होंने रामभुआल को तकरीबन 3 लाख वोटों से हराकर र‍िकॉर्ड जीत दर्ज की है.

सुमनलता

कन्नड़ फिल्मी जगत की मशहूर अभिनेत्री सुमनलता  चुनाव मैदान में निर्दलीय प्रत्याशी बनीं.  जिन्होंने 52 साल में पहली बार कर्नाटक में लोकसभा सीट जीता है. वे कर्नाटक के इतिहास में तीसरी निर्दलीय प्रत्याशी हैं जो लोकसभा चुनाव जीतने में सफल रही हैं.  सुमालता ने मार्च 2019 में घोषणा की थी कि वे मंड्या से निर्दलीय लोकसभा चुनाव लड़ने जा रही हैं. उन्होंने जेडीएस के प्रत्याशी और कर्नाकट के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बेटे निखिल कुमारस्वामी के खिलाफ चुनाव लड़ने का फैसला किया था. बीजेपी ने उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं किया और उन्हें सपोर्ट करने का फैसला किया. उन्होंने निखिल को एक लाख से ज्तादा वोटों से हराया.कन्नड़ सिनेमा के सुपरस्टार अम्बरीश की पत्नी सुमनलता को 703660 वोट मिले.

 

हंसराज हंस

उत्तर पश्चिम दिल्ली से बीजेपी के हंसराज हंस 848663 को वोट मिले. अपने निकटतम प्रतिद्वंदी आप के गुगन सिंह को साढ़े 5,53,897 वोटों से हराया. बता दें कि सूफी गायक हंसराज ने बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री को कई ऐसे सुपरहिट गाने दिए हैं जो आज भी काफी फेमस हैं.

 

ये भी सेलब्रटी भी जीतकर पहुंचे सांसद …

मनोज  तिवारी

राजधानी दिल्ली की सात लोकसभा सीटों में सबसे रोचक मुकाबला उत्तर पूर्व दिल्ली सीट पर हुुआ, जहां भाजपा ने अपने दिल्ली अध्यक्ष और भोजपुरी सुपरस्टार मनोज तिवारी को मैदान में उतारा था। मनोज तिवारी ने यहां से बहुत बड़ी जीत दर्ज की है. उत्तर-पूर्व दिल्ली से भाजपा के मनोज तिवारी ने 3 लाख 66 हजार वोटों से शीला दीक्षित को हराया. आम आदमी पार्टी ने यहां से दिलीप पांडे को उतारा था.

 

स्मृती ईरानी

छोटे पर्दे की हर दिल अजीज बहू ‘तुलसी’ और ‘गांधी परिवार’ के गढ़ अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव में 55120 मतों के अंतर से ऐतिहासिक जीत दर्ज करने वाली स्मृति ईरानी ने एक बड़ा उलटफेर करके राजनीति के गलियारों में अपना कद काफी ऊंचा कर लिया है. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पिछली बार राहुल से अमेठी में एक लाख से अधिक मतों से हार गई थीं. इस बार फिर उसी संसदीय क्षेत्र से बीजेपी ने उन्हें टिकट दिया और पिछले पांच साल से अमेठी में सक्रिय ईरानी ने राहुल गांधी से उस हार का बदला ले लिया है.

हेमामालिनी

मथुरा लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी और फिल्म अभिनेत्री हेमामालिनी ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्दी रालोद के कुंवर नरेंद्र सिंह को करीब 2.93 लाख वोटों से हराया  है. भाजपा की हेमामालिनी को छह लाख 71 हजार 293 वोट मिले जबकि सिंह को तीन लाख 77 हजार 822 वोट मिले. कांग्रेस के महेश पाठक को 28 हजार 84 वोट मिले. 2014 में हेमामालिनी इस सीट से विजयी रही थीं.

किरण खेर

मोदी लहर में भाजपा उम्मीदवार किरण खैर दोबारा चंडीगढ़ में कमल खिलाने में कामयाब रहीं है उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी पवन बंसल को 46850 वोट से शिकस्त दी है. किरण खेर ने अपनी जीत का श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं को दिया है. उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं की मेहनत का ही फल है. इस जीत से देश के विकास में काफी सहयोग मिलेगा.

 

देव अध‍िकारी

बंगाल स‍िनेमा के सुपरस्टार देव अधिकारी ममता बनर्जी की पार्टी, तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर पश्चिम बंगाल की घटल सीट से लोकसभा चुनाव मैदान में थे. उन्हें 717959 मिले. देव ने बीजेपी की भारती घोष को 1,07,973 वोट से हराया है.

गौतम गंभीर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से की. बीजेपी ने पूर्वी दिल्ली सीट से गौतम गंभीर को उतारा, गौतम गंभीर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार थे. खेल के मैदान पर जिस तरह से तमाम भारतीय क्रिकेट प्रेमी उन पर भरोसा दिखाते रहे उसी तरह से उनके क्षेत्र की जनता ने उन पर अपना विश्वास जताया. पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से गौतम गंभीर ने आप की उम्मीदवार आतिशी मर्लेना और कांग्रेस उम्मीदवार अरविंदर सिंह लवली को 391222 वोटों से हराया.

इन सितारों को जनता ने नकारा

उर्म‍िला मातोंडकर

रंगीला गर्ल उर्मिला मातोंडकर चुनाव के पहले कांग्रेस में शामिल हुईं. पार्टी ने उन्हें नॉर्थ मुंबई सीट से चुनावी मैदान में उतारा लेकिन वे 4,65,247 वोट से हार गई. उन्हें भाजपा प्रत्याशी गोपाल शेट्टी ने हराया.

जया प्रदा

सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुई जया प्रदा को पार्टी ने रामुपर लोकसभा सीट से मैदान में उतारा. लेकिन वे 1,09,997 मतों से गई. यहां उनका मुकाबला समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार आजम खान से था.

राज बब्बर

राजबब्बर को भी इस चुनाव में करारी हार का मुंह देखना पड़ा. फतेहपुर सीकरी से कांग्रेस उम्मीदवार राज बब्बर 4,95,065 वोटों से हार गए.

प्रकाश राज

बॉलीवुड और साउथ की फिल्मों के स्टार प्रकाश राज कर्नाटक की बेंगलुरु सेंट्रल लोकसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़े और वे हार गए. उन्हें स‍िर्फ 28906 वोट मिले.

मुनमुन सेन

पश्चिम बंगाल की आसनसोल सीट पर तृणमूल कांग्रेस पार्टी की कैंडिडेट और एक्ट्रेस मुनमुन सेन 1,97,637‬ मतों से चुनाव हार गईं. उनका मुकाबला केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो से था.

पूनम स‍िन्हा

शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा भी लखनऊ लोकसभा सीट से गृहमंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ सपा के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरी थीं. लेकिन पूनम स‍िन्हा को हार मिली. वो राजनाथ सिंह से 3,47,302 मतों से हार गईं.

निरहुआ

भोजपुरी सुपरस्टार और  दि‍नेश लाल यादव न‍िरहुआ को चुनाव में करारी हार का मुंह देखना पड़ा. भाजपा की टिकट से उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ लोकसभा सीट पर पहली बार चुनावी मैदान में उतरे थे. न‍िरहुआ को चुनाव में 2,59,874 मतों से करारी हार मिली. आजमगढ़ की सीट पर निरहुआ का मुकाबला समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता अख‍िलेश यादव से था.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।