Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

टेक्सास। टेक्सास के एक एलीमेंट्री स्कूल में मंगलवार को एक 18 वर्षीय बंदूकधारी ने मंगलवार को रॉब एलीमेंट्री 18 बच्चों और 3 वयस्कों की गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस ने हमलावर 18 वर्षीय बंदूकधारी सल्वाडोर रामोस को भी मार गिराया है. इस घटना पर दुख जताते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है.

अमेरिकी राज्य टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि एक स्थानीय व्यक्ति ने उवाल्डे में रॉब एलीमेंट्री स्कूल में सैन एंटोनियो के पश्चिम में लगभग 85 मील की दूरी पर एक स्कूल में अंधाधुंध गोलियां चलाईं. घटना में 18 छात्रों के अलावा एक शिक्षक की भी गोली लगने से मौत से हो गई. गवर्नर ने बताया कि बंदूकधारी का नाम सल्वाडोर रामोस था, जो इसी इलाके का रहने वाला था.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपनी पांच दिवसीय एशिया यात्रा से व्हाइट हाउस लौटने के तुरंत बाद घटना को लेकर राष्ट्र को संबोधित किया. उन्होंने निर्देश दिया कि पीड़ितों के सम्मान में शनिवार को सूर्यास्त तक अमेरिकी झंडे आधे झुकाकर फहराए जाएं.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि इस तरह की सामूहिक गोलीबारी शायद ही दुनिया में कहीं और होती है. हम इस नरसंहार के साथ जीने को तैयार क्यों हैं? हम ऐसा क्यों होने देते रहते हैं? भगवान के नाम पर इससे निपटने का साहस रखने की हमारी रीढ़ कहाँ है? इस दर्द को अमल में लाने का समय आ गया है.

इसे भी पढ़ें : आर्थिक कष्ट से मुक्ति का द्वार-अन्नदान : भूखे व्यक्ति को भोजन, पशु-पक्षी और मवेशियों की सेवा या तीर्थस्थल में भिक्षुओं को भोजन कराने से दूर होगी आर्थिक तंगी…

उन्होंने कहा कि आज रात, ऐसे माता-पिता हैं जो अपने बच्चे को फिर कभी नहीं देखेंगे. माता-पिता जो कभी पहले जैसा महसूस नहीं करेंगे. एक बच्चे को खोने का अहसास अपनी आत्मा के टुकड़े को हमेशा के लिए चीर देने जैसा होता. मैं राष्ट्र से उन्हें अंधेरे में शक्ति देने के लिए उनके लिए प्रार्थना करने के लिए कहता हूं.

इसे भी पढ़ें : 25 मई का राशिफल: इस राशि के जातकों को होगा आर्थिक लाभ, सामाजिक यश में होगी वृद्धि, जानिए आपकी राशि में क्या है खास…

2018 में पार्कलैंड, फ्लोरिडा में 14 हाई स्कूल के छात्रों और तीन वयस्क कर्मचारियों की मौत के बाद से यह सबसे घातक घटना है. 2012 में कनेक्टिकट में सैंडी हुक की गोलीबारी में एक प्राथमिक विद्यालय में 20 बच्चे और छह कर्मचारी मारे गए थे.