विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने काट डाले 10 हज़ार हैक्टेयर जंगल, ग्रामीणों ने की वनमंत्री से शिकायत 

रायपुर. गरियाबंद जिले के धनौरा-पिपलखुंटा के सैकड़ों ग्रामीणों ने वनमंत्री मोहम्मद अकबर के बंगले में पहुंचकर जंगल की कटाई की शिकायत की. शिकायत के साथ ग्रामीणों ने जंगल की कटाई के वीडियो और फोटो सौंपे.
ग्रामीणों का आरोप है कि इलाके के करीब 10 हज़ार हैक्टेयर सागौन के जंगल देखते ही देखते काट डाले गए. इलाके में अब एक भी सागौन का पेड़ नहीं बचा है. ग्रामीणों ने सारे पेड़ काटने का आरोप इलाके के रेंजर नीलकंठ गंगवेर और उनके मातहत कर्मचारियों पर लगाए हैं.
ग्रामीणों का आरोप है कि जंगल में पदस्थ बीट गार्ड भी जंगल बेचकर करोड़पति हो चुका है. ग्रामीणों का आरोप है कि कक्ष क्रमांक 1204 और 1206 को पड़ोसी राज्य के व्यापारियों को बेच दिया.
ग्रामीणों का  कहना है कि इस मामले को लेकर उन्होंने कई बार वरिष्ठ अधिकारियों को शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई इस दिशा में नहीं हुई.
ग्रामीणों का ये भी आरोप है कि जंगल काटकर उस ज़मीन पर ओडिशा वालों का काबिज कराया जा रहा है. ग्रामीणों ने जल्द कार्रवाई की मांग की है अन्यथा पूरे गांव के लोगों द्वारा उग्र आंदोलन की धमकी दी है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।