पूर्व CM डाॅ.रमन सिंह बोले, ‘मुझे खामोश करने की ताकत किसी में नहीं’

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संसदीय सचिवों की नियुक्ति पर रमन सिंह की टिप्पणी पर कहा था कि बीजेपी ने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है, लेकिन वह प्रदेश उपाध्यक्ष के रूप में बयान देते हैं, वह अपनी भूमिका तय कर लें.

रायपुर- अपनी भूमिका को लेकर की गई मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की टिप्पणी पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डाॅक्टर रमन सिंह ने कहा है कि ‘ राज्य के मुद्दों पर बयान देने के लिए मुझे भूपेश बघेल से कुछ पूछने की जरूरत नहीं है, उन्हें ये चिंता नहीं करनी चाहिए’. दरअसल मुख्यमंत्री ने संसदीय सचिवों को लेकर की गई रमन की टिप्पणी पर जवाब देते हुए यह सवाल उठाया था कि ‘ बीजेपी ने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है, लेकिन वह प्रदेश उपाध्यक्ष के रूप में बयान दे रहे हैं, पहले उन्हें अपनी भूमिका तय करनी चाहिए’

डाॅक्टर रमन सिंह ने कहा कि, मुख्यमंत्री का यह अजीब तर्क है. मैं 15 साल सीएम रहा हूँ, मैं प्रदेश अध्यक्ष रहा हूँ. यहां के मुद्दों पर कुछ कहने के लिए मुझे उनसे पूछने की जरूरत नहीं है. छत्तीसगढ़ में अन्याय, अत्याचार, शोषण, भ्रष्टाचार का मुद्दा आएगा, तो मैं बोलूंगा. रमन ने कहा कि,देश के किसी राज्य में ऐसी अंधेर गर्दी नहीं चल रही है. यूपी बिहार के गुंडों ने रेत खदानों में कब्जा कर रखा है. हालत यह है कि होटल पान-ठेला वाला बता देगा राज्य की क्या स्थिति है. इन विषयों को लेकर रमन क्यों खामोश रहेगा? पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि, मुझे खामोश करने की ताकत किसी में नहीं है? मैं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जरूर हूँ लेकिन मेरा दायित्व और कार्य छत्तीसगढ़ है?
गोबर खरीदी के रेट तय होने पर रमन बोले-
इधर मंत्रीमंडलीय उप समिति ने राज्य में गोबर खरीदी के लिए तय दर की अनुशंसा कर दी है. इसे लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डाक्टर रमन सिंह ने चुटकी लेते हुए कहा कि, राज्य में ठीक से धान तो खरीद नहीं सके, अब गोबर खरीदने जा रहे हैं. किसानों का पहले एक-एक दाना धान खरीदी कर लें. सिर्फ बहानेबाजी नहीं होनी चाहिए.
loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।