SBI में हुई 5,555 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी, RTI में हुआ खुलासा, हो जाइए होशियार

दिल्ली. स्टेट बैंक आफ इंडिया, देश का सबसे बड़ा पब्लिक सेक्टर बैंक है. लोगों का भरोसा इस बैंक पर सबसे ज्यादा है. लगता है, देश का सबसे बड़ा बैंक भी अब फ्राड औऱ धोखाधड़ी से अछूता नहीं रह गया है. एक आरटीआई में मिली जानकारी के मुताबिक चौंकाने वाले राज का खुलासा हुआ है.

देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में मौजूदा वित्त वर्ष के पहले छह महीने के दौरान  कुल 1,329 मामलों में 5,555.48 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है. एक आरटीआई कार्यकर्ता द्वारा मांगी गई सूचना में इसका खुलासा हुआ है.

दरअसल, मध्य प्रदेश के नीमच के रहने वाले आरटीआई कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौड़ ने एक आरटीआई दायर कर भारतीय स्टेट बैंक से सवाल पूछा था कि इस वित्त वर्ष में कितने ग्राहकों की बैंकिंग से जुड़े धोखाधड़ी के मामले सामने आए हैं और उनमें कितनी रकम की धोखाधड़ी की गई.

एसबीआई ने आरटीआई कार्कर्ता को भेजे गए अपने जवाब में कहा है कि इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही यानि कि अप्रैल-जून में बैंक में कुल 723.06 करोड़ रुपये की बैंकिंग धोखाधड़ी के 669 मामले सामने आये. एसबीआई में जारी वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानि कि जुलाई-सितंबर में कुल 4832.42 करोड़ रुपये की बैंकिंग धोखाधड़ी से संबंधित 660 प्रकरण प्रकाश में आये हैं.
आरटीआई कार्यकर्ता ने बैंक से ये भी सवाल पूछा था कि बैंक को इन धोखाधड़ी में कितनी रकम गंवानी पड़ी,जिसका बैंक ने कोई जवाब नहीं दिया.

तो,

विज्ञापन

survey lalluram
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।