Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर।  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ में वर्ष 2019 में प्रस्तावित 37वें राष्ट्रीय खेलों के पहले अगले माह नवम्बर से ‘खेल महाकुंभ’ आयोजित करने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने खेल और युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों से कहा कि खेल महाकुंभ के आयोजन से खेलों के लिए अच्छा वातावरण निर्मित होगा.
गौरतलब है कि खेल महाकुंभ के दौरान विभिन्न खेल स्पर्धाओं का आयोजन ग्राम पंचायत, विकासखण्ड और राज्य स्तर पर आगामी नवम्बर माह से अगले वर्ष के जून माह तक किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने आज रात यहां अपने निवास पर 37वें राष्ट्रीय खेलों के आयोजन की गवर्निंग बॉडी की बैठक में ये निर्देश दिए. उन्होंने खेल महाकुंभ के आयोजन के लिए 12 करोड़ रूपए की राशि की स्वीकृति प्रदान की.
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह  ने खेल महाकुंभ के लिए कैलेण्डर तैयार करने के निर्देश भी दिए. खेल महाकुंभ में विभिन्न खेलों में सब जूनियर, जूनियर और सीनियर वर्ग में खेल स्पर्धाएं आयोजित की जाएंगी. डॉ. सिंह ने राष्ट्रीय खेलों के लिए गठित सचिवालय को सक्रिय करने और जिन खेलों में आवश्यकता है उनके लिए कोचों की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिए.
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह  ने राष्ट्रीय खेलों के आयोजन के लिए विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार करने के निर्देश संचालक खेल को दिए. राष्ट्रीय खेलों के दौरान विभिन्न खेलों की स्पर्धाएं रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई और राजनांदगांव में किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि ऐसे शहर जहां अच्छी खेल अधोसंरचनाएं विद्यमान है या जहां अधोसंरचना निर्माण के कार्य किए जा सकते हैं, ऐसे शहरों जैसे कोरबा और रायगढ़ में भी राष्ट्रीय खेलों की स्पर्धाएं आयोजित की जानी चाहिए.
सीएम डॉ. रमन सनिह ने भारतीय ओलंपिक संघ की तकनीकी समिति के माध्यम से ऐसे शहरों को चिन्हांकित करने के निर्देश भी दिए. उन्होंने प्रदेश में निर्मित किए जा रहे आवासीय विद्यालयों के साथ-साथ सर्वसुविधा युक्त स्पोर्ट्स सेंटर विकसित करने का सुझाव भी दिया. उन्होंने कहा कि कुछ चुने हुए खेलों में कक्षा 5वीं से ही विद्यार्थियों का चयन करके उन्हें खेलों का प्रशिक्षण दिया जाना चाहिए.  आदिवासी विकास विभाग के क्रीडा परिसरों के उन्नयन का निर्णय भी बैठक में लिया गया. बैठक में राष्ट्रीय खेलों के लिए प्रदेश में उपलब्ध खेल अधोसंरचना और विकसित की जाने वाली आवश्यक खेल अधोसंरचनाओं की समीक्षा भी की गई.
बैठक में कृषि एवं जल संसाधन मंत्री  बृजमोहन अग्रवाल, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के मंत्री  भईया लाल राजवाड़े, वन मंत्री  महेश गागड़ा,  मुख्य सचिव  विवेक ढांड, प्रमुख सचिव गृह  बी.व्ही.आर. सुब्रमण्यम, पुलिस महानिदेशक ए.एन. उपाध्याय, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव  अमन कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव सोनमणि बोरा, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की सचिव सुश्री शहला निगार, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के संचालक अविनाश चंपावत, छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के आयुक्त सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, नगरीय प्रशासन विभाग के विशेष सचिव डॉ. रोहित यादव, जनसम्पर्क विभाग के संयुक्त सचिव राजेश सुकुमार टोप्पो, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव मुकेश बंसल, भारतीय ओलंपिक संघ की कार्यकारिणी के सदस्य विक्रम सिंह सिसोदिया सहित छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के महासचिव  बलदेव सिंह भाटिया संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे.