Happy Birthday Amrish Puri : विलेन के किरदार से फेमस हुए थे मोगैम्बो, 450 से ज्यादा फिल्मों में किया था काम

मुंबई. बॉलीवुड में लोग विलेन से ज्यादा हीरो हीरोईन को देखना पसंद करते हैं, पर फिल्मी दुनिया में विलेन का किरदार निभाने वाले ऐसे कई शानदार कलाकार हैं, जिन्होने अपने अभिनय से कई बार फिल्मों को हिट कराया और खूब नाम भी कमाया. कई शानदार अभिनेताओं का किरदार और डायलॉग आज भी बच्चों के मुंह से सुनने भी मिल जाता है. जैसे बॉलीवुड के मोगैम्बो यानी अमरीश पुरी का फैमस डायलॉग “मोगैम्बो खुश हुआ”.

ऐसे तो अमरीश पुरी ने बॉलीवुड में कई तरह का किरदार निभाया है, लेकिन कई निगेटिव किरदार करने के बाद उन्हें खूब शोहरत हासिल हुई. बॉलीवुड के उन शानदार विलेन में अमरीश पुरी भी शामिल रहे हैं, जिनके दम पर फिल्में हिट हो जाती थीं. ये उनकी दमदार आवाज और उनकी शख्सियत का ही जादू था कि उस दौर में लोग थियेटर में उनके दमदार डायलॉग को सुनने जाया करते थे. आज बेशक मोगैम्बो हमारे बीच में नहीं हैं, लेकिन उनके द्वारा निभाए गए सभी किरदार आज भी लोगों के दिलों में जिंदा है. अमरीश पुरी के फिल्मों में आने की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है.

इसे भी पढ़ें- जन्मदिन पर विजय चंद्रशेखर ने फैंस को दिया तोहफा, Beast का नया पोस्टर किया रिलीज

सरकारी मुलाजिम थे अमरीश पुरी

बहुत कम लोगों को पता होगा कि बॉलीवुड के मोगैम्बो यानी की अमरीश पुरी पहले सरकारी मुलाजिम हुआ करते थे. लेकिन दिल में तो एक्टिंग करने की कसक थी. अमरीश पुरी का सपना तब परवान चढ़ा जब अमरीश पुरी की मुलाकात इब्राहिम अल्काजी से हुई. इब्राहिम ने अमरीश को थिएटर के बारे में बताया और उन्हें थिएटर करने की सलाह दी. इसके बाद अमरीश की मुलाकात सत्येदव दुबे से हुई, जो उस वक्त बेहतरीन डायरेक्टर, एक्टर और राइटर थे. सत्यदेव भले ही अमरीश से उम्र में छोटे थे, लेकिन अमरीश पुरी ने उन्हें अपना गुरु माना और उनके साथ काम करना शुरू किया.

वहीं, साल 1971 में आई फिल्म रेशमा और शेरा में अमरीश पुरी ने अपनी एक्टिंग का जलवा दिखाया और दर्शकों को उनकी एक्टिंग खूब पसंद आई, बस फिर क्या था सरकारी बीमा कंपनी में बतौर क्लर्क काम करने वाले अमरीश पुरी ने फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा. फिल्मों में आने की तरह ही अमरीश पुरी की लव लाइफ की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है. रील लाइफ में निगेटिव किरदार करने वाले अमरीश पुरी रियल लाइफ में एक दम अलग थे.

बॉलीवुड की चकाचौंध में रहकर भी नहीं था कोई अफेयर 

अमरीश पुरी को जानने वाले बताते हैं कि इतने दिनों तक बॉलीवुड की चकाचौंध में रहते हुए भी अमरीश पुरी का कभी भी किसी महिला के साथ अफेयर नहीं हुआ. इससे उनकी शख्सियत का अंदाजा लगता है. अमरीश पुरी ने अपनी जिंदगी में एक ही महिला से प्यार किया है और वह उनकी वाइफ उर्मिला दिवेकर हैं. अमरीश पुरी ने उर्मिला से शादी रचाई थी और अपने इस प्यार को उन्होंने मरते दम तक निभाया था. बताया जाता है कि अमरीश और उर्मिला की मुलाकात फिल्मों में आने से पहले तब हुई थी जब वो बीमा कंपनी में काम करते थे.

इसे भी पढ़ें- दुनिया की चौथी पॉपुलर सीरीज बनी The Family Man 2, इन सीरीज को पीछे छोड़ बनाया रिकॉर्ड

जब दोनों ने शादी करने का सोचा तो एक मुसीबत सामने आ गई. मुसीबत यह भी अमरीश पुरी पंजाबी थे और उर्मिला साउथ इंडियन. इसके चलते दोनों के घरवालों को ये रिश्ता मंजूर नहीं था. अमरिश पुरी और उर्मिला ने कभी हार नहीं मानी और दोनों ने अपने परिवार के सदस्यों को मनाकर साल 1957 में शादी रचाई. बताया जाता है कि अमरीश पुरी अपनी पत्नी के हाथ का ही खाना खाते थे. अगर मुंबई में शूटिंग हो रही है तो अमरीश पुरी कभी बाहर खाना नहीं खाते थे. खाना घर से ही सेट पर जाता था. ये आदत उनकी सादगी को दिखाती है.

अमरीश पुरी की हिट फिल्में

वैसे तो अमरीश पुरी ने अपने 40 साल के करियर में 450 से ज्यादा फिल्में की हैं. जिसमें लोगों ने उन्हें विलेन के रूप को काफी पसंद किया है, लेकिन उनके फिल्मी करियर में कई फिल्में ऐसी रही जिनका जिक्र आज भी होता है. इनमें ‘चाची 420’, ‘दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे’, ‘दामिनी’, ‘गर्दिश’, ‘गदर’, ‘घातक’, ‘घायल’, ‘हीरो’, ‘करण अर्जुन’, ‘कोयला’, ‘मेरी जंग’, ‘मि. इंडिया’, ‘नगीना’, ‘फूल और कांटे’, ‘राम लखन’, ‘ताल’, ‘त्रिदेव’ और ‘विधाता’ शामिल हैं. साल 2005 में अमरीश पुरी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था. आज भले ही अमरीश पुरी हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन उनका अभिनय, उनकी आवाज और उनके खास किरदार सभी के दिलों में बसे हुए हैं.

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।