Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

केपटाउन- एक ओर टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज केपटाउन के न्यूलैंड्स मैदान में बुरी तरह से फ्लॉप हो गए। लेकिन युवा हार्दिक पंड्या ने अपना जलवा दिखा दिया। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच चल रहे टेस्ट सीरीज के पहले मैच की पहली पारी में हार्दिक पंड्या ने धमाकेदार बल्लेबाजी की। भले ही कोहली, पुजारा, रोहित जैसे धुरंधर बल्लेबाज सस्ते में पवेलियन लौट गए। लेकिन हार्दिक पंड्या ने कमाल की बल्लेबाजी की, और सभी को बता दिया की उनकी तुलना यूं ही भारत के महान ऑलराउंडर कपिल देव से नहीं की जाती है। हार्दिक पंड्या ने 95 गेंद में 93 रन की पारी खेली। जिसमें 14 चौके तो 1 सिक्सर भी लगाया।

इसलिए खास रही बल्लेबाजी

युवा हार्दिक पंड्या की बल्लेबाजी इसलिए भी खास रही क्योंकि जिस पिच पर टीम इंडिया के धुरंधर सस्ते में पवेलियन लौट गए। खुद हार्दिक पंड्या टीम इंडिया के साथ  पहली बार साउथ अफ्रीकी दौरे में हैं, इन परिस्थितियों के बाद भी पंड्या ने अपने ऊपर दबाव नहीं आने दिया। भले ही जब टीम इंडिया के 6 बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे तब हार्दिक पंड्या बल्लेबाजी करने आए। लेकिन उन्होंने टीम के लिए उस मुश्किल समय में स्कोर किया। जब भारतीय टीम को इस तरह की पारी की जरूरत थी। 8 वें विकेट के लिए हार्दिक पंड्या और भुवनेश्वर कुमार ने 99 रन की अहम साझेदारी निभाई। और टीम इंडिया को एक बार फिर से मुकाबले में ला खड़ा किया।

शतक से चूके पंड्या

युवा हार्दिक पंड्या कमाल की बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन नर्वस नाइंटीज के शिकार होने से नहीं बच सके। एक समय ऐसा लग रहा था कि जिस तरह की तूफानी बल्लेबाज हार्दिक पंड्या कर रहे हैं टीम के स्कोर को साउथ अफ्रीका की पहली पारी के स्कोर के पार ले जाएंगे। लेकिन अचानक ही कैगिसो रबादा की एक गेंद पर क्विंटन डिकॉक को पंड्या कैच दे बैठे और अपने टेस्ट करियर के दूसरे शतक से चूक गए। हार्दिक पंड्या ने अपना पहला टेस्ट शतक श्रीलंका के खिलाफ पिछले साल ही लगाया है।

 रिकॉर्ड से चुके पंड्या

हार्दिक पंड्या जिस अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे थे बिल्कुल भी ऐसा नहीं लग रहा था कि पंड्या साउथ अफ्रीकी सरजमीं पर पहली बार खेल रहे हैं। हार्दिक पंड्या अगर 11 रन और बना लेते थे प्रवीण आमरे के उस रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ देते जो उन्होंने 1992 में भारतीय टीम के साउथ अफ्रीकी दौरे में बनाया था। दरअसल साल 1992 में प्रवीण आमरे ने साउथ अफ्रीका में खेले गए अपने करियर के पहले ही टेस्ट में शानदार 103 रन की पारी खेली थी। हलांकि हार्दिक पंड्या अपने टेस्ट करियर का चौथा टेस्ट मैच खेल रहे हैं। लेकिन साउथ अफ्रीका में ये उनका पहला ही मुकाबला है। लेकिन इस ऐतिहासिक रिकॉर्ड को अपने नाम करने से हार्दिक पंड्या चूक गए।