आशिक दरोगा की आशिकी पड़ी पूरे थाने पर भारी, प्रेमिका ने थाने पर किया ऐसा कि मच गया हड़कंप

लखनऊ. सूबे के वाराणसी शहर के जंसा थाने में एक महिला ने क्षेत्र के एक दरोगा को अपना प्रेमी बताते हुए बेवफाई का आरोप लगाया. कोई कुछ कहता या समझाता, इससे पहले ही महिला ने जहर खा लिया. उसकी हालत बिगड़ते ही थाने में तैनात पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया.

महिला को बीएचयू के सर सुंदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है. इस संबंध में जंसा थानाध्यक्ष सहित अन्य पुलिस कर्मियों ने चुप्पी साध रखी है और दरोगा ने अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर रखा है.
जंसा थाना क्षेत्र में तैनात दरोगा पूर्व में लंका थाना क्षेत्र में तैनात थे. इसी दौरान बलिया जनपद की रहने वाली दो बच्चों की मां से दरोगा को प्रेम हुआ. महिला के पति को जब इसकी जानकारी हुई तो उसने अपने दोनों बच्चों और पत्नी को दरोगा के आवास पर छोड़ दिया.

मामले को लेकर पंचायत हुई तो महिला के पति ने उसे दोबारा अपने साथ रखा. मगर पति-पत्नी के बीच अनबन जारी रही और इस बीच दरोगा का महिला से संपर्क बना रहा. बताया जाता है कि दरोगा जब लंका थाना से स्थानांतरित हुए तो उन्होंने महिला से संपर्क खत्म कर दिया और अपना आवास भी बदल दिया.

पुलिस विभाग से ही महिला को पता लगा कि दरोगा मौजूदा समय में जंसा थाना क्षेत्र में तैनात हैं. इस पर महिला सोमवार की रात दरोगा के तैनाती स्थल पर पहुंची और दोनों लोग साथ ही रहे. मंगलवार की दोपहर दरोगा को खोजते हुए महिला जंसा थाने पहुंची और विवाद करने लगी.

इसी बीच उसने जहर खा लिया और उसकी हालत बिगड़ने लगी तो आनन-फानन में उसे रोहनिया स्थित निजी अस्पताल ले जाया गया. हालत गंभीर होने पर महिला को डॉक्टरों ने बीएचयू ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया.

इस संबंध में सीओ सदर अनिल कुमार ने बताया कि जंसा थाने में महिला के जहर खाने की सूचना मिली है. इस संबंध में फिलहाल किसी ने तहरीर नहीं दी है. प्रकरण की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।