नोटों का गद्दा बनाकर सोता था भ्रष्ट इंजीनियर, शिकायत के बाद हुआ गिरफ्तार

दिल्ली। बिहार में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां निगरानी विभाग ने पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक इंजीनियर सुरेश प्रसाद और कैशियर शशिभूषण कुमार को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

दोनों को 14 लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। यह रकम पटना के पास बिहटा से बिक्रम के बीच बन रहे सड़क के करार के लिए मांगी गई थी।

गिरफ्तारी के बाद हुई छापेमारी में हैरान करने वाली बातें सामने आई हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक इंजीनियर की काली कमाई इतनी थी कि वो नोटों की सेज पर सोता था। उसके घर से अब तक 2.40 करोड़ रुपये की नकदी बरामद हुई है।

निगरानी विभाग के डीएसपी गोपाल पासवान ने इंजिनियर की गिरफ्तारी के बाद बताया कि साज इंफ्राकॉम प्रोजेक्ट लिमिटेड के ठेकेदार अखिलेश कुमार जायसवाल बिहटा से बिक्रम तक सड़क बनवा रहे हैं।

इसके ठेके लिए इंजीनियर सुरेश और कैशियर शशि ने 28 लाख रुपये की मांग थी। पहली किस्त के तहत 14 लाख देने के लिए सुरेश ने ठेकेदार को अपने पटेल नगर स्थित घर पर बुलाया था। निगरानी विभाग की टीम ने रिश्वत लेते दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पकड़े जाने के बाद जब इंजीनियर की घर की तलाशी ली गई तो बिस्तर के अंदर से नोटों की गड्डियां मिलीं। साथ ही पलंग के नीचे भी करोड़ों रुपये मिले। अब तक की छापेमारी में उसके घर से 2.40 करोड़ की नकदी बरामद हो चुकी है।

इसके अलावा कई जमीन के दस्तावेज भी मिले हैं। इनका मिलान किया जा रहा है।

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।