कोरोना वैक्सीन खोजने के बाद रूस के पास ताबड़तोड़ डिमांड आना शुरू, मिल चुके हैं एक अरब डोज के आर्डर

दिल्ली। रूस दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है जिसने कोरोना वैक्सीन खोज निकाली है। अब रूस के पास कोरोना वैक्सीन की ताबड़तोड़ डिमांड पूरी दुनिया से आ रही है।

Close Button

रूस के वैक्सीन कार्यक्रम के प्रमुख किरिल दिमित्रीव ने कहा कि इस वैक्सीन की एक अरब खुराक के लिए दुनिया के बीस देशों से ऑर्डर मिल चुके हैं। चार देशों में अपने सहयोगियों के साथ रूस हर साल इसकी 50 करोड़ खुराक बनाएगा। उन्होंने कहा कि लैटिन अमेरिकी, पश्चिम व दक्षिणी एशियाई देशों ने इस टीके को खरीदने में रुचि दिखाई है और इन देशों के साथ वैक्सीन उपलब्ध कराने को लेकर कई कांट्रैक्ट किए जा चुके हैं।

दरअसल, कल रूस ने आधिकारिक रूप से इस वैक्सीन को बनाए जाने की घोषणा की। रूस के राष्‍ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने कहा कि दुनिया में पहली बार नए कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्‍सीन रजिस्‍टर्ड हुई है। पुतिन ने बताया कि वैक्‍सीन सारे जरूरी टेस्‍ट से पास हो चुकी है। अब वैक्‍सीन का बड़े पैमाने पर उत्पादन किया जाएगा। विदेशी बाजारों में ‘स्पुतनिक वी’ के नाम से वैक्सीन की मार्केटिंग की जाएगी। वैसे आम लोगों के लिए यह वैक्सीन अगले साल एक जनवरी से उपलब्ध होगी।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।