इंसानियत जिंदाबाद: कैंसर पीड़ित बच्चे को चाहिए था खून, भारी बारिश में भी खून देने वालों की लग गई लाइन

दिल्ली. आपने अक्सर इस तरह के विज्ञापन और मैसेज फोन या लैपटॉप पर देखें होंगे। जिसमें लिखा होता है कि इस व्यक्ति को या बच्चे को कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी है, इस अकाउंट में अपने अनुसार कुछ पैसे देकर सहायता करिए। इस तरह के विज्ञापनों पर ज्यादातर लोग विश्वास नहीं करते। लेकिन हाल ही में कैंसर से जूझ रहे एक बच्चे की मदद के लिए 4800 लोगों की भीड़ जमा हो गई।

दरअसल, ब्रिटेन का पांच वर्षीय बच्चा ऑस्कर सक्सेलबी ली ब्लड कैंसर से जूझ रहा है। उसे स्टेम सेल्स और खून की जरुरत है। जिसके लिए पिटमासटन प्राइमरी स्कूल ने ऑनलाइन विज्ञापन डालकर ऑस्कर की मदद की मांग की थी। बिना दो बार सोचे 4800 लोग ऑस्कर की मदद करने स्कूल पहुंच गए।

तेज बारिश में भी उतने लोग स्कूल के बाहर ब्लड टेस्ट कराने के लिए लंबी कतार में खड़े रहे। हालांकि, 4800 लोग एक ही दिन मौके पर नहीं पहुंचे बल्कि इतने लोगों ने खुद को रजिस्टर कराया था और ब्लड टेस्ट के लिए बारी-बारी से पहुंचे थे।

ऑस्कर को ब्लड कैंसर ल्यूकेमिया है जो बोन मेरो में होता है। जिसमें हर दो-तीन हफ्ते में खून की जरुरत पड़ती है। पिटमासटन स्कूल ऑस्कर की हर संभव मदद करने के लिए कैंपेन चला रहा है। हालांकि, इसमें लोगों की भागीदारी भी सराहनीय है।

साथ ही, लोगों ने एक मिसाल कायम की है कि हर एक जिंदगी कीमती है। स्कूल द्वारा ऑस्कर की खून की जरुरत पूरी करने के लिए चलाए गए कैंपेन में दो तीन दिन तक लोग आते रहे।

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।