अगर इस तारीख को आपका भी है जन्मदिन, तो आप पर है शनि देव की विशेष कृपा, बचत करने में हैं माहिर …

रायपुर. शनि ग्रह के प्रति अनेक आख्यान पुराणों में प्राप्त होते हैं. शनिदेव को सूर्य पुत्र और कर्मफल दाता माना जाता है. लेकिन साथ ही पितृ शत्रु भी. शनि ग्रह के सम्बन्ध मे अनेक भ्रान्तियां और इस लिए उसे मारक, अशुभ और दुःख कारक माना जाता है. पाश्चात्य ज्योतिषी भी उसे दुःख देने वाला मानते हैं. लेकिन शनि उतना अशुभ और मारक नहीं है, जितना उसे माना जाता है. इसलिए वह शत्रु नहीं मित्र है. मोक्ष को देने वाला एक मात्र ग्रह शनि ही है.

कहते हैं शनि जिन पर मेहरबान हो जाएं उन लोगों की किस्मत चमक जाती है. इसलिए शनि को प्रसन्न करने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं. लेकिन कुछ ऐसे लोग होते हैं जिन पर शनि देव की विशेष कृपा मानी जाती है. अंक ज्योतिष अनुसार जिन लोगों का जन्म किसी भी महीने की 8, 17 या 26 तारीख को हुआ हो उनका मूलांक 8 होता है. अंक 8 का संबंध शनि देव से माना जाता है. इसलिए इन लोगों पर शनि ग्रह का विशेष प्रभाव रहता है.

मूलांक 8 वाले लोग शांत स्वभाव के होते हैं. इनकी एक अलग पहचान होती है. ये लाइफ में धीरे-धीरे तरक्की करते हैं. लेकिन मेहनत के दम पर अच्छी सफलता भी हासिल करते हैं. ये पैसा बेहद ही सोच समझकर खर्च करते हैं. इसी कारण एक समय बाद इनके पास अच्छा खासा धन जुड़ जाता है. ये पैसों की बचत करने में माहिर होते हैं. इनके पास पैसा कम हो या ज्यादा ये उसमें से कुछ पैसा भविष्य के लिए बचाकर रख ही लेते हैं. जिस कारण इनके पास धन की कभी कमी नहीं होती.

इस मूलांक के लोग इंजीनियर या इलेक्ट्रॉनिक्स से जुड़े काम करते हैं तो इन्हें अच्छा लाभ प्राप्त होने के आसार रहते हैं. ये अत्याधिक मेहनती और ईमानदार माने जाते हैं. ये अमूमन विवादों से दूर रहते हैं. इन्हें गुस्सा जल्दी नहीं आता. लेकिन जब आता है तो बहुत तेज आता है. ये काफी जिद्दी स्वभाव के होते हैं. जिस चीज को करने की ठान लेते हैं उसे करके ही दम लेते हैं. इन्हें अनुशासन में रहना पसंद होता है. ये अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जीना पसंद करते हैं.

इनके दोस्त कम ही बनते हैं. क्योंकि ये उतना मिलनसार स्वभाव के नहीं होते. ये अपने में ही मस्त रहते हैं. ये अपनी बातों को जल्दी से किसी से शेयर नहीं करते. इनके मन में कब क्या चल रहा है इस बात का अंदाजा लगा पाना शायद ही किसी के बस की बात हो. इन लोगों को दिखावा बिल्कुल भी पसंद नहीं होता और न ही चापलूसी करने वाले लोग पसंद होते हैं. जीवन में चाहे कितनी ही दिक्कतें क्यों न आ जाए ये जल्दी से हार नहीं मानते.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!