जिस्म का सौदाः विदेशी युवतियों के साथ भारतीय एजेंट चला रहा था सेक्स रैकेट, ग्राहक बनकर पुलिस ने दी दबिश, लड़कियों समेत हवस का सौदागर गिरफ्तार…

CRIME NEWS: पुलिस के सामाजिक सुरक्षा विभाग ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है. पुलिसकर्मी खुद ग्राहक बनकर होटल के अंदर पहुचे थे. यह सेक्स रैकेट इंटरनेशनल लेवल पर पॉश इलाके में एक नामी होटल से चलया जा रहा था. पुलिस ने मामले में उज्बेकिस्तान की दो महिलाओं के साथ एक भारतीय एजेंट को गिरफ्तार किया है. साथ ही पुलिस ने महिलाओं के पास से दो फर्जी आधार कार्ड भी जब्त किए हैं. आरोपी एजेंट की पहचान जरीपटका के रहने वाले 32 साल के मनोज गणेशानी के रूप में हुई है.

बता दें कि, एक ग्राहक और दलाल मनोज गणेशानी के बीच सौदा तय हुआ. इसके बाद मनोज ने उज्बेकिस्तान की दो युवतियों को पेश किया. ग्राहक का इशारा मिलते ही पुलिस टीम होटल में दाखिल हुई और रैकेट का भंडाफोड़ किया. युवतियों के बैग की तलाशी लेने पर दो फर्जी आधार कार्ड पाए गए. युवती पिछले एक हफ्ते से नागपुर में रह रही थीं. सदर पुलिस ने पासपोर्ट अधिनियम के साथ भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 468, 417(1) के तहत अपराध दर्ज किया है. पकड़े गए आरोपियों को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया.

मामले में नागपुर क्राइम ब्रांच पुलिस के सामाजिक सुरक्षा दस्ते की प्रभारी निरीक्षक शुभांगी देशमुख ने बताया, मंगलवार की शाम सदर स्थित नामी होटल में इंटरनेशनल सेक्स रैकेट चलाने की गुप्त सूचना मिली थी. इस दौरान एक ग्राहक को होटल में भेजकर छापेमारी की गई.

Related Articles

Back to top button