भारतीय मूल के ऋषि सुनक बन सकते हैं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री, इस नामचीन हस्ती के हैं दामाद…

लंदन। कोरोना काल में लॉकडाउन के नियमों की अवहेलना करते हुए पार्टी करने पर घिरे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का पद दांव पर लग गया है. मामला बढ़ा तो उन्हें इस्तीफा तक देना पड़ सकता है, ऐसे में भारतीय मूल के ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक को प्रधानमंत्री नियुक्त किया जा सकता है. ऋषि सुनक दिग्गज भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं.

ब्रिटेन की एक प्रमुख सट्टा कंपनी ‘बेटफेयर’ ने दावा किया है कि चारों तरफ आरोपों से घिरे बोरिस जॉनसन जल्द ही प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं. सट्टा कंपनी ने ऐसे में बोरिस जॉनसन की जगह भारतीय मूल के ऋषि सुनक के प्रधानमंत्री बनने के आसार जताए हैं.

बेटफेयर ने अपने दावे में कहा है कि 57 वर्षीय बोरिस जॉनसन की मुश्किलें मई 2020 में कोरोना लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट में हुई ड्रिंक पार्टी के खुलासे की वजह से मुश्किल में हैं. जॉनसन वर्तमान में न केवल विपक्ष का दबाव झेल रहे हैं, बल्कि अपनी कंजर्वेटिव पार्टी से भी दबाव झेल रहे हैं.

केवल लॉकडाउन में नियमों की अवहेलना ही नहीं बल्कि कोविड महामारी को ठीक से न संभाल पाने और अफगानिस्तान से जल्दबाजी में सेना को निकालने के आरोप से घिरे हुए हैं. इसके अलावा निजी तौर पर उनपर भ्रष्टाचार के मामले लगे हैं. यही कारण है कि कंजर्वेटिव पार्टी को लगता है कि अगला चुनाव बोरिस जॉनसन के नेतृत्व में वो नहीं जीत पाएगी.

जानसन मंत्रिमंडल में दूसरे महत्वपूर्ण ओहदे पर

ब्रिटेन में जन्मे ऋषि सुनक पिछले साल रिचमंड (यॉर्क्स) सीट से दूसरी बार सांसद चुने गए थे. बतौर वित्त मंत्री ऋषि ब्रिटिश सरकार में दूसरा सबसे महत्वपूर्ण ओहदे पर हैं. वे ब्रिटेन में ऐसे महत्वपूर्ण पद पर पहुंचने वाले भारतीय मूल के पहले सांसद हैं. उनके पिता डॉक्टर थे और मां फ़ार्मेसी चलाती थीं. उनकी पत्नी अक्षता इन्फ़ोसिस संस्थापक नारायण मूर्ति की बेटी हैं. ऋषि सुनक की दो बेटियां भी हैं.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!