IPL 2021: KKR ने दिल्ली को 3 विकेट से दी मात, टॉप-4 में कोलकाता बरकरार

स्पोर्ट्स डेस्क। IPL 2021 के 41वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने दिल्ली कैपिटल्स (DC) को तीन विकेट से हरा दिया. गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद नीतीश राणा की जुझारू पारी से कोलकाता को यह कामयाबी मिली. इसके साथ ही केकेआर ने नॉकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा. इस हार के बाद दिल्ली का लगातार चार जीत का क्रम भी टूट गया.

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवरों में नौ विकेट पर 127 रन बनाए. जवाब में केकेआर ने 18.2 ओवरों में 7 विकेट पर 130 रन बनाकर मैच जीत लिया. केकेआर इस की जीत में ऑलराउंडर सुनील नरेन का भी अहम योगदान रहा, जिन्होंने दो विकेट चटकाने के अलावा ताबड़तोड़ 21 रनों की पारी खेली.

इस जीत के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम चौथे स्थान पर ही बनी हुई है. केकेआर ने अब तक 11 मुकाबलों में पांच मैच जीते हैं और 6 मे उसे हार मिली है. वहीं, दिल्ली कैपिटल्स की टीम दूसरे स्थान पर है. दिल्ली ने अब तक 11 में से 8 मुकाबले जीते हैं, 3 में उसे हार मिली है. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) की टीम 10 मुकाबलों में आठ जीत और 2 हार के साथ पहले स्थान पर है.

लक्ष्य का पीछा करते हुए केकेआर को चौथे ही ओवर में पहला झटका लगा, जब वेंकटेश अय्यर (14 रन) को ललित यादव ने बोल्ड कर दिया. इसके बाद छठे ओवर में राहुल त्रिपाठी (9) भी आवेश खान की गेंद पर स्टीव स्मिथ को कैच थमा बैठे. दूसरे ओपनर शुभमन गिल (30 रन) अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने कुछ बेहतरीन शॉट्स लगाए.

लेकिन, टीम के 67 रनों के स्कोर पर गिल को कगिसो रबाडा ने श्रेयस अय्यर के हाथों कैच आउट करा दिया. उसी स्कोर पर इयोन मॉर्गन भी बिना खाता खोले रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर कैच आउट हो गए. फिर 96 रनों के स्कोर पर दिनेश कार्तिक (12) को आवेश खान ने बोल्ड कर मैच में रोमांच पैदा कर दिया.

इसके बाद नीतीश राणा ( नाबाद 36 रन) और सुनील नरेन ने छठे विकेट के लिए 26 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत के करीब ला खड़ा कर दिया. राणा ने अपनी पारी में दो छक्के और इतने ही चौके लगाए. वहीं नरेन की पारी में दो छक्के और एक चौका शामिल रहा. दिल्ली कैपिटल्स की ओर से आवेश खान ने सबसे ज्यादा तीन विकेट (3 ओवरों में 13 रन) चटकाए, लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके.

KKR ने दिल्ली को 127 रनों पर रोका

कोलकाता नाइट राइडर्स ने दिल्ली कैपिटल्स को 9 विकेट पर 127 रनों के स्कोर पर रोक दिया. लोकी फर्ग्यूसन की (10 रनों पर 2 विकेट), सुनील नरेन (18 रनों पर 2 विकेट) और वेंकटेश अय्यर (29 रनों पर 2विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने दिल्ली ने बल्लेबाजी के लिए मुश्किल पिच पर नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए.

कप्तान ऋषभ पंत (39), स्टीव स्मिथ (39) और शिखर धवन (24) ही टिककर बल्लेबाजी कर पाए. नाइट राइडर्स की सटीक गेंदबाजी के सामने दिल्ली की टीम अंतिम नौ ओवरों में 54 रन ही बना सकी.

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की टीम को स्मिथ और धवन ने सतर्क शुरुआत दिलाई. मौजूदा सत्र का पहला मैच खेल रहे संदीप वॉरियर पर चौके के साथ धवन ने खाता खोला और फिर इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में भी लगातार दो चौके मारे. धवन ने टिम साउदी पर भी दो चौके मारे, लेकिन फर्ग्यूसन की गेंद पर कवर प्वाइंट पर वेंकटेश को कैच दे बैठे. धवन ने 20 गेंदों की पारी में 5 चौके जड़े.

दिल्ली ने पावर प्ले में एक विकेट पर 39 रन बनाए. श्रेयस अय्यर सिर्फ एक रन बनाने के बाद नरेन की गेंद पर बोल्ड हो गए. फिर स्मिथ ने वरुण चक्रवर्ती पर लगातार दो चौकों के साथ रन गति में इजाफे का प्रयास किया और फिर नरेन पर भी चौका जड़ा. वह हालांकि फर्ग्यूसन की गेंद पर कड़ा प्रहार करने की कोशिश में शॉट विकेटों पर खेल गए. उन्होंने 34 गेंदों का सामना करते हुए चार चौके मारे.

वेंकटेश ने इसके बाद शिमरॉन हेटमेयर (4) को साउदी के हाथों कैच किया. अगले ओवर में नरेन ने ललित यादव (0) को एलबीडब्ल्यू किया, जबकि वेंकटेश ने अक्षर पटेल (0) को पवेलियन की राह दिखाई. दिल्ली ने चार रनों के भीतर 3 विकेट गंवाए, जिससे उसका स्कोर छह विकेट पर 92 रन हो गया.

दिल्ली के रनों का शतक 17वें ओवर में पूरा हुआ. ऋषभ पंत ने एक छोर संभाले रखा, लेकिन बड़े शॉट खेलकर रन गति में इजाफा करने में नाकाम रहे. वह अंतिम ओवर में रन आउट हुए. उन्होंने 36 गेंदों का सामना करते हुए तीन चौके मारे. पंत आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उनके नाम अब दिल्ली के लिए 79 मुकाबलों में 35.67 की औसत से 2390 रन हो गए हैं.

ऋषभ पंत ने सहवाग को पछाड़ा

पंत (2390) ने टी20 में दिल्ली कैपिटल्स के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग को पीछे छोड़ दिया. सहवाग ने दिल्ली कैपिटल्स के लिए 86 टी20 मैचों में 29.77 की औसत से 2,382 रन बनाए थे. इस दौरान सहवाग के बल्ले से एक शतक और 17 अर्धशतक निकले.

दिल्ली की पारी की एक खास बात यह रही कि पूरे 20 ओवर खेलने के बावजूद उसकी पारी में कोई भी बल्लेबाज छक्का नहीं जड़ पाया. आईपीएल के इतिहास में दिल्ली कैपिटल्स के साथ दूसरी बार ऐसा हुआ है. इससे पहले आईपीएल 2021 के पहले चरण में राजस्थान रॉयल्स (RR) के खिलाफ दिल्ली की ओर से एक भी सिक्सर नहीं लगा था.

इसे भी पढ़ेः चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने किया दावा, राजधानी में भी हुआ 100% टीकाकरण

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।