पान मसाला कंपनी के ठिकानों पर आईटी का छापा, करीब 400 करोड़ रुपए के बेहिसाब नकदी का हुआ खुलासा

नई दिल्ली। देश की पान मसाला कंपनी के खिलाफ टैक्स चोरी किए जाने की शिकायत मिली थी. जिसके बाद आयकर विभाग की टीम ने कानपुर और दिल्ली स्थित एक बड़े पान मसाला मेकर ग्रुप के ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई की है. मामले की जांच में करीब 400 करोड़ रुपए के बेहिसाब नकदी का आकलन किया गया है.

जानकारी के मुताबिक पान मसाला मेकर ग्रुप पान मसाला बनाने के साथ-साथ रियलए स्टेट के कारोबार में भी शामिल हैं. कानपुर, नोएडा, गाजियाबाद, दिल्ली और कोलकाता में फैले कुल 31 जगहों पर छापेमारी की गई. इस छापेमारी के दौरान अधिकारियों ने कई गड़बड़ी को पकड़ने का काम किया. इसकी जांच जब शुरू की गई तो एक के बाद एक कई संपत्तियों के कागजात सामने आने लगे.

रियल एस्टेट कारोबार की भी इनकम टैक्स ने की जांच की गई. 115 खोखा कंपनियों से रियल एस्टेट कारोबार को फंड किया जाता था. पान मसाला कारोबार से आए हुए सारे काले धन को रियल एस्टेट में लगाया जाता था. जांच में करीब 400 करोड़ रु के बेहिसाब नकदी का आकलन किया गया है.

छापेमारी के दौरान 52 लाख रुपए कैश और 7 किलो सोना भी बरामद किया गया. आयकर विभाग की टीम को कागजों में मौजूद कंपनियों के नेटवर्क का पता चला है. जिनके डायरेक्टर्स के पास कोई आर्थिक साधन नहीं है. इन कंपनियों ने रियल स्टेट समूह को तीन साल में 266 करोड़ रुपए का कथित लोन और अडवांस दिया.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।