Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

कुमार इंदर, जबलपुर। जबलपुर के एआरटीओ (ARTO of Jabalpur) संतोष पाल का एक विवादस्पद वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में एआरटीओ संतोष पाल एक ऑटो ड्राइवर को झूठे केस में फंसाने की धमकी देते हुए कह रहे हैं कि-Auto में 100 ग्राम गांजा रखवाकर भेजवा दूंगा जेल। मेरी खोपड़ियां मत खराब करो। धमकी देने का वीडियो ऑटो ड्राइवर ने बनाकर सोशल मीडिया में शेयर कर दिया। थोड़ी में वीडियो वायरल हो गया। वहीं एआरटीओ के वायरल वीडियो पर ऑटो चालक ने कहा कि एआरटीओ संतोष पाल खुद गांजा सप्लाई करते हैं। 

वायरल वीडियो में साफ सुना जा सकता है कि एआरटीओ संतोष पाल ऑटो ड्राइवर को खुलेआम धमकी दे रहे हैं। ऑटो ड्राइवर को बोल रहे हैं कि मेरा दिमाग खराब मत करो, अब दिखे तो पुलिस की तरह 100 ग्राम गांजा गाड़ी में रखवा कर जेल भेज दूंगा। एआरटीओ को साफ साफ सुना जा सकता है कि , कैसे वो ऑटो ड्राइवर को कह रहे है कि, जिस तरह से पुलिस आर्म्स एक्ट के झूठे मुकदमे में लोगों को जेल भेज देती हैं। ठीक वैसे ही वो उसकी गाड़ी में गांजा रखकर जेल भेज देंगे। मेरी खोपड़ियां मत खराब करो।

इसे भी पढ़ेः आशिक मिजाज नायब तहसीलदार ने महिला पटवारी से की SEX की डिमांड,ऑडियो वायरल

30 नवम्बर का है वायरल वीडियो 

आपको बता दें कि, जबलपुर में लंबे समय से तैनात संतोष पाल का ये वीडियो 30 नवंबर की दोपहर का बताया जा रहा है। वीडियो में वह कार्यालय के सामने ही कुर्सी डालकर बैठे दिखाई दे रहे हैं। वहीं उनके अगल बगल दलाली करने वाले और उनके कर्मचारी खड़े हुए हैं। उसी समय ऑटो ड्राइवर भी वहीं पहुचता है और हाथ जोड़कर संतोष पॉल से बात करने की कोशिश करता है लेकिन एआरटीओ उसे धमकी देना शुरू कर देते हैं।

इसे भी पढ़ेः Madhya Pradesh Weather: एमपी में बदला मौसम का मिजाज, इंदौर-उज्जैन और ग्वालियर संभाग में हो सकती है बारिश, रात में 5 डिग्री तक गिर सकता है तापमान

शिकायत आने पर की जाएगी कार्रवाई 

वहीं मामले में जबलपुर एसपी सिद्धार्थ ने कहा कि इस मामले में कई नोट ज्ञापन भी के पास आए हुए हैं तो इस मामले में उचित जांच करके आगे की कार्रवाई करने के लिए निर्देशित करेंगे।

इसे भी पढ़ेः Madhya Pradesh Road Accident: बस-ट्रक की भिड़ंत में 6 लोगों की मौत, बैतूल में नरखेड़ गांव के पास हुआ हादसा, मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर जताया दुख

विवाद और एआरटीओ का चोली दामन का साथ

प्रभारी आरटीओ संतोष पाल का विवादों से पुराना नाता है। बीजेपी के पूर्व विधायक हरेंद्रजीत सिंह से भी भिड़ चुके हैं। काफी वक्त पहले संतोष पाल ने पूर्व विधायक से हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग वायरल कर दी थी। इसके बाद पूर्व विधायक को भारी फजीहत का सामना करना पड़ा था। आलम ये हुआ था कि, मजबूरी में आरटीओ को हटाने के लिए पूर्व विधायक द्वारा चलाया जा रहा धरना वापस लेना पड़ा था।

इसे भी पढ़ेः BREAKING: ग्वालियर किले से युवती ने लगाई छलांग, स्थानीय लोगोंं ने बचाई जान

बस ऑपरेटरों से भी हो चुका है विवाद

आपको बता दे की इससे पहले एआरटीओ का बस परमिट, फिटनेश जैसे तमाम बातों को लेकर बस ऑपरेटरों से भी विवाद हो चुका है। खुद को वो परिवहन मंत्री का खास बताते हैं। एआरटीओ संतोष पाल के इस बद्जुबानी ने राजनीतिक रंग भी ले लिया है। एक ऑटो ड्राइवर को जिस निम्न शब्दों में वह धमका रहे हैं, उससे पुलिस की कार्यप्रणाली को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है।