whatsapp

वाह! कलेक्टर हो तो ऐसाः जमीन पर बैठकर कलेक्टर ने सुनीं दिव्यांग की दास्तां, छात्र को दिलाई ट्राइसाइकिल, छात्रावास में दाखिले के दिए निर्देश

कुमार इंदर, जबलपुर। जबलपुर कलेक्टोरेट पहुंचे दिव्यांग की दास्तां सुन कलेक्टर इलैया राजा टी (Jabalpur Collector Ilaiya Raja T) खुद को नहीं रोक पाए और नीचे बैठकर न केवल दिव्यांग की समस्या सुनीं बल्कि उसे ट्राइसाइकिल भी उपलब्ध करवाया। साथ ही असिस्टेंट कमिश्नर को बुलाकर निर्देश दिये कि तत्काल छात्र का नजदीकी छात्रावास में एडमिशन करवाया जाए।

BIG BREAKING: अतिक्रमण हटाने पहुंची पुलिस टीम पर हमला, चौकी प्रभारी समेत 6 घायल, दो आरोपी गिरफ्तार

दरअसल कुंडम जनपद के मखरार गांव में रहने वाला दिव्यांग छात्र अपनी समस्या लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचा था। दिव्यांग की समस्या सुनकर कलेक्टर भी घुटनों पर उसके साथ बैठ गए और बड़े ही इत्मीनान से उसकी समस्या सुनीं। दिव्यांग छात्र कक्षा 10वी में पढ़ता है और रोजाना 5 किलोमीटर का सफर तय कर स्कूल जाना पड़ता है। कलेक्टर ने छात्र की समस्या सुनते ही तत्काल उसे ट्राइसाइकिल उपलब्ध करवाई न केवल ट्राइसाइकिल उपलब्ध करवाई बल्की असिस्टेंट कमिश्नर को बुलाकर निर्देश दिये कि तत्काल छात्र का नजदीकी छात्रावास में एडमिशन करवाया जाए।

सीएम प्रोटोकॉल की चाय पर अफसरों में गहमा-गहमीः नोटिस जारी करने वाले SDM पलटे, कहा- CM को नहीं, हम लोगों को पिलाई थी चाय

पिता के कंधे पर बैठकर आया था सुकरन मरावी

कुंडम तहसील के मखरार गांव में रहने वाला छात्र सुकरन मरावी अपने पिता के कंधे में बैठकर 70 किलोमीटर दूर जबलपुर कलेक्ट्रेड पहुंचा था, जिसे देख हर कोई दंग रह गया। जैसे ही कलेक्टर की नज़र उस पर पड़ी कलेक्टर फौरन उसके पास पहुंचे और उसकी समस्या सुन उसका तुरंत निदान भी किया। कलेक्टर ने छात्र की मार्कसीट देख उसे अच्छे से पढ़ाई करने के लिए भी कहा। छात्र ने कलेक्टर को भरोसा दिया है कि वह पढ़ाई करते हुए अच्छे नंबरों से पास भी होगा।

TI हाकम सिंह सुसाइड केस: पुलिस ने ASI रंजना खांडे समेत 4 लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का दर्ज किया केस

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button