Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

टोक्यो। ट्रेन को प्लेटफार्म में लगाने में मिनटभर की देरी पर जापान की रेल कंपनी ने ड्राइवर की तनख्वाह से 56 येन (0.50 डॉलर) काट दिया. इस पर ड्राइवर ने रेल कंपनी ने मानसिक प्रताड़ना के आरोप में रेल कंपनी पर 2.2 मिलियन येन ($19,470) क्षतिपूर्ति का मुकादमा ठोक दिया है.

दैनिक योमूरी शिमबून की रिपोर्ट के अनुसार, वेस्ट जापान रेलवे (JR West) ने इस साल की शुरुआत में जून 2020 में काम के दौरान हुई गड़बड़ पर जुर्माना लगाया था. इसके बाद ड्राइवर ने कंपनी पर 2.2 मिलियन येन ($19,470) क्षतिपूर्ति का मुकादमा ठोक दिया है. जानकारी के अनुसार, ड्राइवर को ओकायामा स्टेशन के गैरेज से खाली ट्रेन को निकालकर प्लेटफार्म में लगाना था. लेकिन ड्राइवर ने गलत प्लेटफार्म में ट्रेन को लगा दी.

इस गलती की वजह से ड्राइवरों की अदला-बदली में देरी हुई, जिसकी वजह से ट्रेन छूटने में देरी हुई और करीबन एक मिनट की देरी से गंतव्य में पहुंची. कंपनी का कहना है कि उसे तनख्वाह में कटौती का हक है, क्योंकि ड्राइवर की गड़बड़ी के दौरान कोई काम नहीं हुआ. कंपनी के प्रवक्ता ने मामले के अदालत में जाने की पुष्टि करते हुए कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

उन्होंने कहा कि कर्मचारी और कंपनी की समझ में अंतर की वजह से मामला अदालत में गया है. कंपनी ने ‘नो वर्क, नो पे’ के तहत तनख्वाह में कटौती की है. वहीं कर्मचारी का कहना है कि घटना छोटी से मानवीय भूल थी, जिसे कार्य में अनुपस्थिति नहीं माना जा सकता है.

बता दें कि जापान की रेल व्यवस्था अपनी कार्यकुशलता और समय की पाबंदी की वजह से दुनिया में अलग ही स्थान रखती है. वर्ष 2017 में स्थानीय रेल ऑपरेटर ने 20 सेकंड पहले ट्रेन के रवाना होने पर यात्रियों को हुई तकलीफ पर भारी दुख जताया था. इस बात की चर्चा अंतरराष्ट्रीय मीडिया में काफी हुई थी.

">
Share: