‘कोरोना’ पर MP में सियासी बयानबाजी तेजः कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर साधा निशाना, कहा- प्रतिबंध हटाने के बजाय धीरे-धीरे देनी थी राहत

शब्बीर अहमद, भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण (corona infection) के बढ़ते मामले को लेकर सीएम शिवराज सिंह ने बैठक की। बैठक में सीएम ने कोरोना संक्रमण को बढ़ने के फैलने से रोकने कई निर्णय लिए। वहीं प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर मध्यप्रदेश में सियासी बयानबाजी भी तेज हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने ट्वीट कर सरकार पर  निशाना साधा है। कमलनाथ ने कुल 7 ट्वीट शिवराज सरकार पर निशाना साधा। 

इसे भी पढ़ेः MP में बर्ड फ्लू की दस्तकः आगर मालवा में 8 दिन चिकन शॉप बंद, प्रदेश के सभी कलेक्टरों को सरकार ने किया अलर्ट, हर जिले में गठित की जाएगी टीम

कमलनाथ ने लिखा कि- मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री ने जब 17 नवंबर को कोरोना को लेकर लागू तमाम प्रतिबंधो को हटाने का एकाएक  निर्णय लिया था। स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया था। आयोजनों को छूट प्रदान करने का निर्णय लिया था। तभी मैंने फैसले विरोध किया था। मैंने उसी दिन कहा था कि सरकार को एकदम से तमाम प्रतिबंध हटाने की बजाय धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधों को शिथिल करते हुए छूट प्रदान करना थी।अभी खतरा टला नहीं है।

इसे भी पढ़ेः शशि थरूर के ट्वीट पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कटाक्ष, कहा- जिस पार्टी के नेता महिलाओं को ‘माल’ कहते हैं उनके बारे में प्रियंका गांधी का क्‍या ख्‍याल है

तीसरी लहर और नए वेरिएंट की आशंका और खतरा अभी भी सर पर है।18 साल से कम आयु के बच्चों को अभी तक वैक्सीन नहीं लगी है। कई पात्र लोगों का अभी तक वैक्सीनेशन होना बाकी है।स्कूलों को पूरी तरह से खोलना का फैसला भी गलत था। कमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार तेजी से बढ़ रहा है। सरकार को तत्काल कड़े कदम उठाना चाहिए। स्वास्थ्य सेवाओं की भी समीक्षा करनी चाहिए।

कमलनाथ का पहला ट्वीट

कमलनाथ का दूसरा ट्वीट

कमलनाथ का तीसरा ट्वीट

कमलनाथ का चौथा ट्वीट

कमलनाथ का पांचवां ट्वीट

कमलनाथ का छठा ट्वीट

कमलनाथ का सातवां ट्वीट

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!