whatsapp

रामलीला में अभिनय करने कुंभकरण बने विधायक, मुकुट गिरा तब लोगों ने पहचाना

कोंडागांव. छत्तीसगढ़ में कई ऐसे विधायक हैं जो अपने-अपने अंदाज के लिए पहचाने जाते हैं. इसी अंदाज में केशकाल विधानसभा क्षेत्र के विधायक संतराम नेताम भी समय-समय पर अपने कार्यों के चलते सुर्खियों में रहते हैं. कभी खेतों में हल चलाते हुए तो कभी कार्यक्रमों में गाना गाते हुए नजर आते हैं. इस बार दशहरा के उपलक्ष्य में फरसगांव ब्लॉक के ग्राम बड़ेडोंगर में दशहरा कार्यक्रम के दौरान विधायक संतराम नेताम राक्षसों की वेशभूषा में नजर आए.

विधायक ने रावण के भाई कुंभकरण के रूप में अभिनय प्रस्तुत किया. इस बीच लोगों को लगा कि हर साल जो प्रस्तुति देता है, इस बार भी वही है. लेकिन जब आखिर में कुंभकरण मारा गया और उसका मुकुटा हटा तब लोगों को पता चला कि ये तो केशकाल विधायक संतराम नेताम हैं. विधायक संतराम नेताम ने क्षेत्रवासी और सभी लोगों को दशहरा की बधाई देते हुए पहली बार कार्यक्रम में भाग लेने और कुंभकरण बनने का अवसर मिलने पर समिति का आभार जताया.

बता दें पिछले साल भी विधायक नेताम अपने विधानसभा के ग्राम विश्रामपुरी में भी कुम्भकर्ण बन दशहरा में रामलीला का मंचन किया था.

इसे भी पढ़ें :

Related Articles

Back to top button