आईपीएल में धोनी ने पहली बार किया है ऐसा, रोमांचक मैच में सुपरकिंग्स हारे, किंग्स इलेवन की जीत

स्पोर्ट्स डेस्क- आईपीएल सीजन-11 में रविवार को 2 मुकाबले खेले गए, जहां रविवार का दूसरा मुकाबला किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला गया। और इस मैच में किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने चेन्नई सुपरकिंग्स को एक रोमांचक मुकाबले में 4 रन के मामूली अंतर से हरा दिया।

टॉस का बॉस
मैच में टॉस का बॉस चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम बनी, और पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया, चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी एम एस धोनी कर रहे थे, तो वहीं आर अश्विन किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी कर रहे थे, चेन्नई सुपरकिंग्स के स्टार खिलाड़ी सुरेश रैना चोट की वजह से प्लेइंग इलेवन से बाहर थे।

किंग्स इलेवन पंजाब की बल्लेबाजी
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 197 रन बनाए, किंग्स इलेवन की टीम ने इस मैच में लोकेश राहुल के साथ पारी की शुरुआत करने के लिए क्रिस गेल को भेजा, और जब मैदान में गेल बल्ला चलता है तो क्या होता है ये हर किसी को पता है, सुपरकिंग्स के खिलाफ क्रिस गेल ने ताबड़तोड़ पारी खेली, और 33 गेंद में ही 63 रन ठोक दिए, अपनी इस पारी में गेल ने 7 चौके और 4 सिक्सर लगाए, लोकेश राहुल ने 22 गेंद में 37 रन की पारी खेली, 7 चौके लगाए, मयंक अग्रवाल ने 19 गेंद में 30 रन बनाए, 2 सिक्सर लगाया,युवराज सिंह 13 गेंद में 20 रन बनाकर आउट हुए 1 सिक्सर लगाया,एरॉन फिंच अपना खाता भी नहीं खोल सके, करुण नायर ने 17 गेंद में 19 रन की पारी खेली, 1 सिक्सर लगाया, कप्तान आर अश्विन ने 11 गेंद में 14 रन बनाए, 1 सिक्सर लगाया।

चेन्नई सुपरकिंग्स की गेंदबाजी
बात चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों की करें, तो क्रिस गेल और लोकेश राहुल की बल्लेबाजी के आगे चेन्नई सुपरकिंग्स की गेंदबाजों की एक ना चली, हलांकि आखिरी ओवर्स में चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों ने बहुत कुछ कवर किया, लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को पहले 10 ओवर में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से नहीं रोक सके, चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों में शर्दुल ठाकुर, इमरान ताहिर को 2-2 विकेट मिले, शेन वाटसन, हरभजन सिंह और ब्रावो को 1-1 विकेट मिला।

चेन्नई सुपरकिंग्स की बल्लेबाजी
टारगेट 198 रन का था, लेकिन चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम तो बड़े टारगेट को चेज करने के लिए जानी जाती है, इसलिए भी मुकाबले के रोमांचक होने की बहुत उम्मीद थी, हुआ भी वही, भले ही चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम को आखिरी में 4 रन से हार का सामना करना पड़ा, लेकिन आखिर में मैच कप्तान धोनी की तूफानी बल्लेबाजी की वजह से रोमांच के चरम पर पहुंच गया था। चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से एम एस धोनी ने सबसे ज्यादा नाबाद 79 रन की पारी खेली, और इसके लिए 44 गेंद का सामना किया। अपनी पारी में धोनी ने 5 सिक्सर और 6 चौके लगाए, हलांकि धोनी के अलावा कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। रायुडू ने जरूर 49 रन बनाए, लेकिन आर अश्विन ने इन्हें रन आउट कर दिया, चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम को एक वक्त में 3 ओवर में 55 रन चाहिए थे, टारगेट से बहुत दूर नजर आ रही थी चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम लेकिन धोनी की अटैकिंग बल्लेबाजी ने मैच को रोमांच के चरम पर पहुंचा दिया। चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 193 रन ही बना सकी।

किंग्स इलेवन पंजाब की गेंदबाजी
किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाजों में टाई को 2 विकेट मिले, आर अश्विन और मोहित शर्मा ने 1-1 विकेट हासिल किया।

धोनी का रिकॉर्ड
इस मैच में एम एस धोनी ने वो कर दिखाया जो आईपीएल इतिहास में इससे पहले कभी नहीं कर सके थे। माही ने 79 रन की नाबाद पारी खेली, जो अबतक के आईपीएल इतिहास में उनका सबसे बड़ा स्कोर है, इससे पहले साल 2011 में माही ने 70 रन की पारी खेली थी।
मैन ऑफ द मैच
मैच में शानदार प्रदर्शन के लिए क्रिस गेल को मैन ऑफ द मैच से नवाजा गया।

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।