जानिए टीम इंडिया के इस खिलाड़ी के लिए क्यों खास रही ये सीरीज ?

स्पोर्ट्स डेस्क- भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज तो खत्म हो गई, लेकिन ये सीरीज टीम इंडिया के इस खिलाड़ी के लिए बहुत ही शानदार रहा. राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया में द वॉल के नाम से जाना जाता था। और जब से राहुल द्रविड़ ने क्रिकेट से संन्यास लिया, चेतेश्वर पुजारा की तुलना उनसे की जाने लगी, या यूं कहें कि राहुल द्रविड़ की जगह को भरने के लिए पुजारा से उम्मीद की जाने लगी। भारतीय सरजमीं पर तो पुजारा लगातार कमाल कर रहे थे। और टीम इंडिया के लिए बैक टू बैक बडी़ पारियां खेल रहे थे। लेकिन एशिया के बाहर पुजारा अपना वो प्रदर्शन नहीं दिखा पा रहे थे जिसे देखकर ये कहा जा सके कि वाकई पुजारा राहुल द्रविड़ की जगह भर देंगे। क्योंकि राहुल द्रविड़ जब टीम इंडिया से खेलते थे, तो वो दुनिया की हर पिच पर रन बनाते थे, और बड़ी पारियां खेलते थे। ऐसे में चेतेश्वर पुजारा का ये ऑस्ट्रेलिया दौरा और इस दौरे में टेस्ट सीरीज में पुजारा की बल्लेबाजी उनके क्रिकेट कद को और बड़ा करने में मददगार होगी.

 मौजूदा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चेतेश्वर पुजारा ने शानदार खेल दिखाया, पूरे टेस्ट सीरीज में पुजारा ही छाए रहे, सीरीज का एक मैच छोड़ दें तो पुजारा ने सीरीज के तीनों ही मैच में शतकीय पारी खेली. सीरीज में पुजारा अभी हाल ही में खत्म हुए भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट मैच की सीरीज में चेतेश्वर पुजारा ने कमाल की बल्लेबाजी की, इस सीरीज में पुजारा ने 3 शतकीय पारियां खेलीं, और तीनों ही शतक शानदार रहे. सीरीज का पहला टेस्ट मैच जो कि एडिलेड में खेला गया, टीम इंडिया ने शानदार जीत दर्ज की और इस मैच की पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा ने 123 रन और दूसरी पारी में 71 रन  बनाए. सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच पर्थ में खेला गया, और इस मैच में पुजारा पहली पारी में 24 और दूसरी पारी में 4 रन ही बना सके।

 सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच मेलबर्न में खेला गया, और चेतेश्वर पुजारा ने कठिन पिच पर 106 रन की शानदार पारी खेली, जिसकी हर ओर तारीफ हुई . और फिर सीरीज का चौथा टेस्ट मैच जो कि सिडनी में खेला गया यहां तो पुजारा ने कमाल ही कर दिया। और 193 रन की शानदार बड़ी पारी खेली. और इस तरह से 4 मैच की इस सीरीज में पुजारा ने 74.42 की औसत से 521 रन बनाए, जिसमें 3 शतक जमाया।

 मैन ऑफ द मैच, और सीरीज दोनों बने

 सीरीज जीतने के बाद चेतेश्वर पुजारा को जहां पूरे सीरीज में कमाल की बल्लेबाजी के लिए मैन ऑफ द सीरीज से नवाजा गया, तो वहीं सिडनी टेस्ट मैच में शानदार 193 रन की पारी खेलने के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी दिया गया, और इस तरह से चेतेश्वर पुजारा ने पहली बार किसी सीरीज में मैन ऑफ द मैच और सीरीज दोनों पर अपना कब्जा जमाया, जो इनके लिए भी एक रिकॉर्ड है। 

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।