बीजेपी कार्यकर्ता का शव मिला, पश्चिम बंगाल में तनाव बढ़ा… जमकर हो रही हिंसा

पश्चिम बंगाल में फिर से बीजेपी कार्यकर्ता का शव मिला है. इससे पहले आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं का शव पेड़ से लटकता मिला था. फिलहाल सूबे में तनाव है और हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है.

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब एक नए मामले में मालदा में दो दिन से लापता बीजेपी कार्यकर्ता का शव मिला है. इसके बाद से ही इलाके में तनाव है. सूबे में लगातार हिंसा को लेकर पहले से ही सत्तारूढ़ टीएमसी और बीजेपी आमने-सामने हैं. अब एक और बीजेपी कार्यकर्ता के शव मिलने के बाद तनाव और बढ़ता दिख रहा है. बता दें कि प्रदेश में हिंसा को लेकर बीजेपी के कार्यकर्ता बुधवार को सड़क पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं.

इससे पहले मंगलवार को पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के कांकीनारा में बम धमाके में 2 लोगों की मौत हो गई जबकि 4 लोग घायल हो गए. लोकसभा चुनाव के बाद से ही टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प जारी है. उत्तर 24 परगना में हिंसा के मामले ने इस विवाद को मंगलवार को और बढ़ा दिया.

आरएसएस और बीजेपी कार्यकर्ता के शव मिलने पर हंगामा

इससे पहले एक आरएसएस और एक बीजेपी के कार्यकर्ता के पेड़ से लटकते शव पाए जाने से सनसनी फैल गई थी. सोमवार को हावड़ा के आमटा स्थित सरपोटा गांव में बीजेपी कार्यकर्ता समातुल दोलुई का शव पेड़ से लटकते हुए मिला था. दोलुई के परिवार और बीजेपी नेताओं ने इस घटना के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ बताया है.

पीएम और गृह मंत्री से मिले थे राज्यपाल

बता दें कि पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा की घटनाओं को लेकर राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।