हसदेव बचाओ पद यात्रा: पद यात्रा को कोरबा सांसद का भरपूर समर्थन, कहा- ग्राम सभाओं के विरोध को दरकिनार कर खनन प्रक्रिया को बढ़ाया गया आगे

कोरबा। हसदेव अरण्य एक समृद्ध वन क्षेत्र और हसदेव नदी को बचाने 4 से 13 अक्टूबर तक ग्राम फतेहपुर सरगुजा से प्रारंभ हो गई है. हसदेव बचाओ पद यात्रा को कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत भरपूर समर्थन दिया है. सभी से पद यात्रा के दौरान पडऩे वाली स्थानों पर सहभागिता के साथ सहयोग देकर सफल बनाने की अपील की है.

कोरबा संसदीय क्षेत्र के सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने कहा कि हसदेव अरण्य बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक उमेश्वर सिंह अरमो और सदस्य संचालक मण्डल आलोक शुक्ला सहित प्रतिनिधि मण्डल ने अवगत कराया है.

छत्तीसगढ़ की जीवन दायनी हसदेव नदी के जलागम क्षेत्र के जंगल, पर्यावरण को बचाने अपनी आजीविका, संस्कृति और अस्तित्व को बचाने हसदेव अरण्य क्षेत्र के ग्रामीण 4 अक्टूबर को सरगुजा जिले के ग्राम फतेहपुर से 10 दिवसीय पद यात्रा शुरू कर 13 अक्टूबर को राजधानी रायपुर पहुंचेंगे.

सांसद ने पद यात्रा को अपना समर्थन देते हुए कहा कि प्रभावित क्षेत्रों में ग्राम सभाओं के विरोध का दर किनार कर समृद्ध वन क्षेत्र में केन्द्र की एनडीए सरकार ने खनन प्रक्रिया को आगे बढ़ाया है, जिसका वे पूरजोर करती हैं.

कोरबा लोकसभा क्षेत्र के पूर्व सांसद और भारत सरकार के केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री रहे डॉ. चरणदास महंत ने भी हसदेव के संरक्षण और संवर्धन को लेकर कोरिया जिले के भरतपुर सोनहत विधानसभा क्षेत्र ग्राम मेंड्रा में हसदेव नदी के उद्गम स्थल से यात्रा प्रारंभ कर जांजगीर चांपा जिले के ब्लाक नवागढ़, ग्राम देवरी हसदेव के संगम स्थल तक यात्रा निकाली गई थी.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।