Live- PM मोदी ने एयर स्ट्राइक का जिक्र कर छत्तीसगढ़ की जनता से मांगा वोट

भाटापारा। दूसरे चरण के मतदान के लिए प्रचार थमने से पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के कोरबा और भाटापारा में आमसभा ली. इस दौरान मोदी ने कांग्रेस पर लगातार तीखा हमला बोलते रहे. आमसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की धरती ने भाजपा को हमेश भरपूर प्यार दिया है. 2014 में आपके समर्थन की वजह से ही मैं दिल्ली पहुंचा और दिल्ली में बड़े बड़े फैसले ले पाया. बड़े बड़ों से टकरा पाया. इस समर्थन के लिए और पांच साल के लिए डटकर मेरे साथ खड़े रहने के लिए मैं आपका आभार व्यक्त करता हूं. 2019 के इस चुनाव में मैं फिर से आपके पास आशीर्वाद मांगने के लिए आया हूं.

साथियों ये चुनाव केवल दल चुनने, सांसद चुनने, सरकार चुनने के लिए सीमित नहीं है. यह नए भारत की भूमि तय करने वाला चुनाव है. तेजी से बदलती दुनिया में भारत का दम कैसा होगा. भारत की प्रतिष्ठा कैसी होगी. इसका फैसला आपको 23 तारीख को कमल के निशान पर बटन दबाकर करना है.

आज भारत पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करता है कभी किसी ने यह मुमकिन किया. अब किसने मुमकिन किया, किसने किया. आज भारत एयर स्ट्राइक कर आतंकवादियों को घर में घुसकर मारता है. यह किसने किया. यह किसने किया. आज भारत अंतरिक्ष में भी मिसाइल दाग सकता है और दुश्मन के सेटेलाइट को तीन मिनट में मार सकता है. यह किसने किया. यह किसने किया. गलत जवाब.. यह सब मोदी ने नहीं बल्कि आपके एक वोट ने किया है. यह आपके वोट की ताकत है जो दुनिया में देश को एक शक्ति के रुप में उभार रहा है.  2014 में जो आपका एक-एक वोट मोदी के खाते में आया ये उसी का परिणाम है जो देश आज तेज गति से आगे बढ़ रहा है. अब 2019 आपका दूसरा वोट छत्तीसगढ़ और भारत को नई ऊंचाईयों पर ले जाएगा. भाईयों और बहनों देश भर में भाजपा के पक्ष में जो लहर है. उससे कांग्रेस और उसके महामिलावटियों की नींद उड़ गई है. बौखलाहट में ये मुझे कैसी कैसी गालियां दे रहे हैं. किस तरह अपमानित कर रहे हैं ये सारी बातें हिन्दुस्तान का हर मतदाता देख रहा है. आप भी देख रहे हैं. अब मुझे ये बताईये इस सभा में इतनी भीड़. मुझे बताया कि लोग दो घंटे से आए हैं इतनी गर्मी में आए है. य़े नजारा जैसे जैसे उनको पता चलेगा गालियां बढ़ती जाएगी. अगर पहले छोटी गाली दी तो अब बड़ी गाली देंगे.

साथियों अब इन लोग हद पार कर रहे हैं बोल रहे हैं जिसके नाम में मोदी लगा है सब चोर हैं. यह कैसी राजनीति है यह कौन सी राजनीति का स्तर है. इन्होंने तो एक पूरे समाज को चोर बोल दिया. वो भी सिर्फ तालियां बजवाने के लिए. आपके चौकीदार को नीचा दिखाने के लिए. यह मानसिकता यह मानसिकता है सल्तनत वाली है. जो हर वंचित, पीड़ित शोषित समाज को इस प्रकार की हीन नजर से देखता है और वे इसे अपना गुलाम समझता है. आज नामदार ने मोदी को गाली दी कल आदिवासी को दे सकते हैं परसों किसी और को. हमारे आदिवासी पहनावे का खुलकर मजाक उड़ाते हैं. जो भी इनके परिवार को वंशवाद को चुनौती देगा उनको ये इसी तरह गालियां देते हैं. साथियों सच्चाई यह है कि पूरे पूरे पिछड़े समाज को आदिवासी समाज को ये गालियां देते हैं तो खुद की स्थिति कभी देखते भी नहीं है. नामदार परिवार के ज्यादातर लोग भ्रष्टाचार के आरोप में जमानत पर है. अब तो ये मुख्यमंत्रियों को भी पसंद करते हैं तो उसकी क्राइटेरिया जमानत होता है. जो जमानत पर आते हैं ये उन्हीं को पसंद करते हैं.

मैं हैरान हूं .ये जो यहां साहू समाज है छत्तीसगढ़ में ये अगर गुजरात में होते तो उन्हें मोदी कहते, राजस्थान में होते तो राठौर कहते, साऊथ में होते तो बनिहार कहते. तो क्या सारे मोदी चोर हैं क्या, ये क्या भाषा बोल रहे हैं. सोचिये वो कांग्रेस जो देश के ईमानदार टैक्स देने वाले को स्वार्थी बताते हैं लालची बताती है. उसके खुद के नामदारों पर करोड़ों करोड़ों रुपये का टैक्स चोरी का केस चल रहा है. साथियों आपका ये चौकीदार देश के गरीबों को अपना पक्का घर देने में जुटा हुआ है. वहीं ये नामदार लोग देश विदेश में बड़े-बड़े बंग्लो और फार्म हाऊस का खेल खेल रहे हैं. आजादी के समय इन लोगों को अखबार निकालने के लिए बड़ी-बड़ी जमीन दी गई तो उसमें भी ये हजारों करोड़ रुपये का घोटाला कर आज ये मौज कर रहे हैं. भाईयों बहनों जमानती नामदारों का खेल इतना ही नहीं है. ये देश की रक्षा सुरक्षा में दलाली खाते हैं. बोफोर्स घोटाला आपको याद है कि नहीं.. भूल तो नहीं गए.. हेलीकॉप्टर घोटाला तो अभी कुछ ही साल पुराना है. इस घोटाले के राजदार को ये मोदी विदेश से पकड़कर लाया और दिल्ली के जेलों में बंद कर दिया हूं. ये राजदारों को मैं पकड़कर लाया हूं ये मामा सारे राज नए नए राज उगल रहे हैं. एक तरह मामा की जुबान चल रही है दूसरी तरफ भांजे मैडम जी का दबकारा भड़क रहा है.

साथियों नामदारों के कारनामों की लिस्ट यहीं खत्म नहीं होगी. हाल ही में एक और बड़ा कांड कर डाला है, तुगलक रोड चुनाव घोटाला. तुगलकरोड क्या है आपको पता है क्या. पता है यहां के अखबार वाले शायद छापते नहीं होंगे. दिल्ली में कांग्रेस का एक बहुत बड़ा घोटाला तुगलक रोड में रहता है. इस तुगलक रोड का चुनाव से क्या लेने देना है. मैं आपको बताता हूं. इस तुगलक रोड के घर से चुनाव में खर्च के लिए सैकड़ों करोड़ इधर से उधर किये गए. छोटी मोटी बात नहीं है सैकड़ों करोड़.

अब मैं आपको जो बताने जा रहा हूं वो सुनकर आप कांग्रेस के पंजे की असली सच्चाई आपको पता लग जाएगी. ये ऐसे लोग हैं जो गरीब के बच्चों को उन्हें कुपोषण से बचाने के लिए, उन्हें खाना देने के लिए, गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए जो करोड़ों रुपये भारत सरकार ने भेजे थे. इन लोगों ने उसमें से भी मार लिया. क्या बच्चों का निवाला छीन ले ऐसे लोगों के पाप को माफ करोगे क्या, गर्भवती माता का निवाला छीन ले ऐसे लोग पापी हैं कि नहीं. ऐसे लोगों को सजा होनी चाहिए कि नहीं और अभी तो सत्ता में आए कुछ ही महीने आए हुए हैं और ये पाप शुरु किया है. और रंगे हाथ पकड़े गए हैं कांग्रेस की एक-एक रैली पर एक-एक होर्डिंग्स पर भूख से बिलखते किसी गरीब बच्चे के किसी आदिवासी बच्चे के आंसू उसमें से टपकते हैं. भाईयों बहनों. जो गरीब महिला आदिवासी महिला पौष्टिक भोजन के इंतजार में अपने होने वाले बच्चे की सही से देखभाल नहीं कर पा रही है उसकी गुनाहगार है कांग्रेस. इसकी गुनाहगार कांग्रेस है. कांग्रेस ने गरीब के मुंह से निवाला छीन लिया है. गर्भवती महिला के जीवन को संकट में डालने का पाप किया है. चुनाव में अपने गलत खर्चे निकालने के लिए, काला धन जुटाने के लिए कांग्रेस ने गरीबों के साथ बहुत बड़ा जुल्म किया है. मैं भी चौकीदार हूं, देश को भरोसा दिलाता हूं मासूम बच्चों के गर्भवती महिलाओं के इन गुनाहगारों को सजा दिलाकर रहने वाला हूं. भाईयों बहनों वही आपका ये चौकीदार पूरी ईमानदारी से आपका जीवन, देश के आदिवासियों का जीवन आसान बनाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहा है, हमारा संकल्प 2022 तक हर बेघर को पक्का घर देने का है. ये वादा मोदी का है 2022 तक मेरे से हिसाब मांग लेना. मैं देश के उन सब परिवारों को घर दूंगा जिनके पास अपना घर नहीं होगा.

देखिये वीडियो

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।