मध्यप्रदेश : नेताओं सहित दिवंगत लोगों को सदन में श्रद्धांजलि, मृत किसानों का जिक्र सूची में नहीं होने पर कांग्रेस की आपत्ति, विधानसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को सदन ने दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी। इसके साथ ही उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने और सीधी बस हादसे में मारे गए लोगों को भी सदन में श्रद्धांजलि दी गई। किसान आंदोलन के दौरान मृत किसानों को श्रद्धांजलि नहीं देने के मामले में सदन में हंगामा हुआ। वहीं श्रद्धांजलि के बाद सदन की कार्यवाही बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।

Close Button

सदन में मोतीलाल वोरा, कैलाश सारंग, रामविलास पासवान, तरुण गोगोई, बूटा सिंह, सतीश शर्मा सहित कई दिवंगत नेताओं को याद करते हुए सदस्यों ने श्रद्धांजलि दी। नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने भी दिवंगत नेताओं के साथ ही सीधी बस हादसे में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिजनों को रोजगार देने की मांग उठाई। उन्होंने मुरैना शराब कांड में मारे गए लोगों के साथ ही किसान आंदोलन में मारे गए आंदोलनकारी किसानों को भी श्रद्धांजलि दी।

किसान आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि दिये जाने का जिक्र कार्यसूची में नहीं होने पर विजय लक्ष्मी साधौ ने आपत्ति जताई। उन्होंने सवाल किया कि क्या किसान इस देश के निवासी नहीं है। जिसके बाद सदन में हंगामा हुआ। हो रहे शोर शराबा पर अध्यक्ष गिरीश गौतम ने सबको शांत कराया।

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।