Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

पन्ना। मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर एसडीओपी संतोष पटेल की शादी इन दिनों चर्चा में है. ठेठ ग्रामीण अंदाज, पुरातन परिवेश और सादगी भरे अंदाज में एसडीओपी साहब की शादी हुई है. आज के दौर में लोग कार से लेकर हेलीकॉफ्टर तक से बारात लेकर आते, लेकिन एसडीओपी संतोष पटेल ने सादगी की मिसाल पेश कर साइकिल पर अपनी दुल्हन लेकर आए. इनका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

बड़ा ओहदा मिलने के बाद भी निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर अनुविभागीय अधिकारी पुलिस संतोष पटेल ने यह साबित कर दिया है कि पद प्रतिष्ठा और आधुनिकता से कई गुना ऊपर संस्कृति और परंपराएं होती है. जब लोग अपनी परंपराए छोड़ शादी विवाह में पाश्चात्य संस्कृति का अनुकरण कर रहे हैं. इस दौर में एसडीओपी ने अपनी शादी में हिन्दू संस्कृति में हजारों वर्ष से चली आ रही वैवाहिक परंपराओं का पालन किया है.

सिर पर खजूर के पेड़ के पत्तों का मौर पहने भारतीय परिधान में दूल्हा और दुल्हन दिख रहे हैं. एसडीओपी दूल्हा अपनी दुल्हन को लाने ले जाने में भी मोटर गाड़ी का नहीं, बल्कि साइकिल का प्रयोग किया. इस अनूठी शादी में लोगों को हजारों वर्ष पुरानी संस्कृति देखने को मिली. आमतौर पर आजकल हो रही शादियों में खास इंतजाम होते है. खूब चकाचौंध और आधुनिकता से लवरेज व्यवस्थाएं, आलीशान होटल और खूब सारी सजावट स्टेटस सिंबल बन गया है. ऐसे शादियों में लोग लाखों रुपए खर्च करते है. आधुनिकता के बीच जो जितना बड़ा आदमी उसका इंतजाम उतना ही बड़ा होता है.

इन सबके बीच पुरातन संस्कृति कही खो सी गई है. ऐसे में अफसरों की शादी के तो क्या कहने, लेकिन बुन्देलखण्ड के पन्ना जिले में जन्मे निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर एसडीओपी संतोष पटेल की शादी आधुनिकता और दिखावे से एकदम उलट थी. उन्होंने अपने विवाह समारोह में बुंदेली परंपराओं को जीवंत रखा. उनमें बुंदेली दूल्हे की झलक देखने को मिल रही थी. यह दूल्हा आलीशान सहरा नहीं, बल्कि खजूर का मुकुट लगाए हुए था. पर्यावरण प्रदूषण से मुक्त वाहन साइकिल पर एसडीओपी के साथ उनकी दुल्हन सवार थी. आधुनिकता के बीच सादा तरीके से बुंदेली रीति-रिवाजों के बीच की गई यह शादी समारोह अब लोगों के लिए चर्चा का विषय बन गया है.

आमतौर पर बड़े अधिकारियों की शादियों में खूब तामझाम देखने को मिलता है. ऐसे में पुलिस अधिकारी की यह शादी लोगों को प्रेरणा देती है कि हिंदू संस्कृति और हजारों वर्ष पुरानी परंपरा के बीच में शादी को किस तरह कम खर्च में उत्सव की तरह किया जा सकता है. बता दें कि निवाड़ी जिले के पृथ्वीपुर अनुभाग में पदस्थ एसडीओपी पुलिस संतोष पटेल मूल रूप से पन्ना जिले के अजयगढ़ के देव गांव के रहने वाले हैं. उनका विवाह 29 नवंबर को चंदला की गहरावन गांव में रोशनी के साथ हुआ है. ऐसे में वैवाहिक समारोह में निभाई गई पुरातन रीति अब लोगों के बीच चर्चा और हर्ष का विषय बना हुआ है. इस विवाह के कुछ अंश एसडीओपी पुलिस ने भी अपनी फेसबुक बॉल के जरिए साझा किया है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus